न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#GST संग्रह तीन महीने बाद नवंबर में एक लाख करोड़ रुपये के पार

नवंबर में केंद्रीय जीएसटी से वसूली 19,592 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी से 27,144 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी से 49,028 करोड़ रुपये और जीएसटी उपकर से वसूली 7,727 करोड़ रुपये रही

32

NewDelhi :  माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह तीन महीने के बाद नवंबर में पुन: एक लाख करोड़ रुपये के स्तर को पार कर गया.  नवंबर में जीएसटी संग्रह एक साल पहले इसी माह की तुलना में छह प्रतिशत बढ़कर 1.03 लाख करोड़ रुपये रहा. इससे पहले अक्टूबर में जीएसटी संग्रह 95,380 करोड़ रुपये था. पिछले साल नवंबर में 97,637 करोड़ रुपये की वसूली हुई थी.

इसे भी  पढ़ें :  #Maharashtra : सीएम उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में कहा,  मैं हिंदुत्व की विचारधारा के साथ, इसे कभी नहीं छोडूंगा…

JMM

जीएसटी राजस्व में सबसे अच्छी मासिक वृद्धि  

एक आधिकारिक बयान के अनुसार इस बार नवंबर में केंद्रीय जीएसटी से वसूली 19,592 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी से 27,144 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी से 49,028 करोड़ रुपये और जीएसटी उपकर से वसूली 7,727 करोड़ रुपये रही. एकीकृत जीएसटी में से 20,948 करोड़ रुपये आयात से वसूल हुए.  इसी तरह उपकर की वसूली में 869 करोड़ रुपये आयातित माल पर उपकर से प्राप्त हुए.

.इससे पहले सितंबर और अक्टूबर महीने में जीएसटी संग्रह में सालाना आधार पर गिरावट आयी थी. बयान में कहा गया कि नवंबर में घरेलू लेन-देन पर जीएसटी संग्रह में 12 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी.  यह इस साल जीएसटी राजस्व में सबसे अच्छी मासिक वृद्धि है.

बयान के अनुसार, जीएसटी व्यवस्था की शुरुआत के बाद नवंबर 2019 में तीसरा सर्वाधिक कर संग्रह हुआ है, इससे अधिक जीएसटी संग्रह सिर्फ इस साल के मार्च और अप्रैल महीने में हुआ था. यह आठवां महीना है जब जीएसटी का मासिक संग्रह एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा है.

आयात पर जीएसटी संग्रह में नवंबर में 13 प्रतिशत की गिरावट

बयान में कहा गया कि आयात पर जीएसटी संग्रह में नवंबर में 13 प्रतिशत की गिरावट रही.  अक्टूबर में आयात से होने वाले जीएसटी संग्रह में 20 प्रतिशत की गिरावट आयी थी. अक्टूबर महीने के लिये 30 नवंबर तक 77.83 लाख जीएसटीआर3बी रिटर्न (व्यापारी द्वारा प्रस्तुत क्रय-बिक्रय के स्वघोषित विवरण) दायर किये गये. सरकार ने नियमित समायोजन के तहत एकीकृत जीएसटी से केंद्रीय जीएसटी में 25,150 करोड़ रुपये और राज्य जीएसटी में 17,431 करोड़ रुपये समायोजित किये.

नियमित समायोजन के बाद नवंबर महीने में कुल राजस्व संग्रह केंद्रीय जीएसटी के लिये 44,742 करोड़ रुपये तथा राज्य जीएसटी के लिये 44,576 करोड़ रुपये रहा. डिलॉयट इंडिया के पार्टनर एमएसमणि ने कहा कि कुछ महीनों में जीएसटी संग्रह सुस्त रहने के बाद नवंबर के त्योहारी माह में इसके एक लाख करोड़ रुपये को पार कर जाने से बाजार के प्रति धारणा मजबूत हुई है.

इसे भी  पढ़ें : #Goa के #Governor ने बेरोजगारी और गरीबी पर  चिंता जताई, कहा,  देश के अमीर सड़े आलू , एक पैसा भी चैरिटी नहीं करते 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like