न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Nagasaki :  #PopeFrancis ने  विश्व के नेताओं से परमाणु हथियारों की निंदा करने की अपील की

द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान अमेरिका ने नागासाकी और हिरोशिमा में परमाणु बम गिराये थे. इन परमाणु हमलों में क्रमश: 74 हजार और 1.40 लाख लोग मारे गये थे.

27

Nagasaki :   पोप फ्रांसिस ने विश्व के नेताओं से परमाणु हथियारों की निंदा करने की अपील करते हुए रविवार को कहा कि हथियारों की दौड़ से सुरक्षा कमजोर होती है, संसाधनों की बर्बादी होती है और मानवता के विनाश का खतरा पैदा होता है. फ्रांसिस ने नागासाकी में यह अपील की. द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान अमेरिका ने नागासाकी और हिरोशिमा में परमाणु बम गिराये थे. इन परमाणु हमलों में क्रमश: 74 हजार और 1.40 लाख लोग मारे गये थे.

फ्रांसिस ने बारिश के बीच पीड़ितों के स्मारक पर जाकर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की. उन्होंने कहा कि यह स्थान इस बात की याद दिलाता है कि मनुष्य एक दूसरे का कितना विनाश करने में सक्षम हैं. फ्रांसिस ने कहा, परमाणु हथियारों के रहित दुनिया संभव और आवश्यक है. मैं नेताओं से अपील करता हूं कि वे इस बात को न भूलें कि परमाणु हथियार हमारी राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा को मौजूदा खतरों से हमारी रक्षा नहीं कर सकते.

JMM

इसे भी पढ़ें : #G20Meeting : विदेश मंत्री #Jaishankar ने कई देशों के विदेश मंत्रियों के साथ चर्चा की

जापान परमाणु हमले की विभीषिका झेलने वाला विश्व का अब तक का एकमात्र देश 

Related Posts

#CitizenshipAmendmentBill की निंदा की #Pakistan ने, कहा, हिंदू राष्ट्र की दिशा की ओर बढ़ाया गया कदम  

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने मध्य रात्रि के बाद एक बयान जारी कर कहा, हम इस विधेयक की निंदा करते हैं.  यह प्रतिगामी और भेदभावपूर्ण है

फ्रांसिस जापान की यात्रा की शुरुआत में नागासाकी और हिरोशिमा गये. उन्होंने कहा कि परमाणु हथियारों को एकत्र करने से सुरक्षा का झूठा एहसास होता है और ईरान एवं उत्तर कोरिया के परमाणु खतरे को लेकर चिंताओं के दौर में ये हथियार वैश्विक शांति को नुकसान पहुंचाते हैं.  फ्रांसिस ने कहा कि शांति और अंतरराष्ट्रीय स्थिरता एकजुटता एवं सहयोग की वैश्विक नैतिकता के बल पर ही हासिल की जा सकती है.

जान लें कि  जापान परमाणु हमले की विभीषिका झेलने वाला विश्व का अब तक का एकमात्र देश है. पोप ने वैटिकन से रवाना होने से पहले जापानी लोगों के नाम एक वीडियो संदेश में कहा कि आपके साथ, मैं प्रार्थना करता हूं कि मानव इतिहास में कभी परमाणु हथियारों की विध्वंसक शक्ति का इस्तेमाल न हो. पोप थाईलैंड से जापान पहुंचे हैं.  थाईलैंड में उन्होंने धार्मिक सहिष्णुता और शांति का संदेश दिया.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

इसे भी पढ़ें : #MahaPoliticalTwist  फ्लोर टेस्ट टला, SC  में कल फिर सुनवाई, सरकार और सीएम फडणवीस को नोटिस

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like