Skip to content Skip to navigation

मँगलवार 21 मार्च 2017

मँगलवार 21 मार्च 2017: नवमी - बुधवार सुबह -09 : 06 तक, पक्ष - कृष्ण, मास - चैत्र, विक्रम सँवत- 2073,शक् सँवत - 1938,हिजरी तारीख- 21 ,दिन - मँगलवार,महिना - जमादिउसानी 1437,बगँला / सँक्राति- तारीख 7 , मास- चैत्र / मीन ,बँगाब्द - 1423

सूर्योदय कालीन नक्षत्रादि
नक्षत्र - मूल - सुबह - 9 :52 तक बाद पूषा

योग- साध्य
--------------------------------------
. राहुकाल - दोपहर 14 :42 से 16 :03 तक ,
.----------------------------------------
दिशाशूल -
उत्तर पश्चिम वायव्य दिशा मे जाना हो तो गुड खाकर यात्रा करे

पर्व- त्योहार - नवमी

मेष - धन सम्बन्धी कार्य और व्यवसाय से सम्बंधित कार्य शाम तक निपटा लें अन्यथा धन हानि और बने काम बिगड़ें। शाम के बाद चित्त अशांत मानसिक तनाव। बहन की तरफ से अशुभ समाचार आ सकता है। लाल बनियान शुभ।

वृषभ - दिन थोडा निराश जनक। लेकिन शाम के बाद कुछ अच्छा होने की उम्मीद बढ़ेगी। शाम के बाद मन प्रसन्न। नए वस्त्र न लें। मित्रो से बहस हो सकती है।

मिथुन - जो भी काम है शाम से पहले निपटा लें नयी नौकरी का आवेदन 3 बजे से पहले जमा करा दें। पत्नी से सुख। ससुराल से सहयोग। अनसुलझी उलझन।

कर्क - मांस मदिरा का सेवन पिता या पुत्र किसी एक को कष्ट देगा। धन मिलेगा नयी योजना या व्यवसाय की शुरवात के लिए अच्छा दिन। साझेदारी के कामो में असफलता। पेट की तकलीफ। लंबी दुरी की यात्रा।

सिंह - पिता के साथ किये गए कार्य लाभ देंगे। यात्रा न करें अन्यथा धन हानि। शाम के बाद मन प्रसन्न। जो परिवार से दूर हैं उनके मिल्न की सम्भावना। कर्ण पीड़ा।

कन्या - धन संचय होगा। और धन की प्राप्ति थोड़ी मशक्कत के बाद। परिवार में हास्य विनोद का माहौल। शाम के बाद आलस्य और चिंता बढे। चंदन का तिलक श्रेष्ठ।

तुला - झूठ न बोले अन्यथा परिवार में वादविवाद। स्त्री के सहयोग से किये गए कार्यों में लाभ। धन की चिंता। किसी की जमानत न लें धन का नुक्सान हओ सकता है। सरकारी मदद देंगे। नेत्र पीड़ा।

वृश्चिक - धन मिलने में शंका। भाई के झगड़ा न करें। स्वादिष्ट व्यंजन मिले। धार्मिक कार्यों में रूचि। विदेश सम्बन्धी कार्य में अड़चन। शरीर में दर्द की शिकायत।

धनु - मोबाइल घडी और पेन की खरीद न करें। सर ढककर रखें मान सम्मान बनेगा और रुके कार्य पूर्ण होंगे। घर में पानी नलो से न टपके अन्यथा नकद धन की हानि बच्चे अस्वस्थ।

मकर - धन का नुक्सान या लेने वाला लेककर भूल जाए। हर काम में रूकावट। क्रोध न करें। अपने सामान का ध्यान रखें। नंगे पांव मंदिर जाएँ शुभ होगा।

कुम्भ - धन सम्बन्धी कार्य 4 बजे शाम से पहले निपटा लें। किसी को उधार न दें। किसी का मीठा न खाएं अन्यथा स्त्री को कष्ट। तेज नमक व् शराब का सेवन उच्च रक्तचाप दे सकता है।

मीन - धन मिलने की आशा रात्रि में। शाम के बाद माँ को स्वास्थ्य लाभ। बिन बताये किये गए काम सफल होंगे। धार्मिक वास्तु मुफ़्त न लें।

loading...