रिम्स बना रणक्षेत्र, डॉक्टरों के बाद अब एम्बुलेंस चालकों ने की मारपीट (देखें वीडियो)

Publisher NEWSWING DatePublished Sat, 01/13/2018 - 17:26

Ranchi: झारखंड का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल रिम्स इन दिनों रणक्षेत्र बना हुआ है. कभी डॉक्टरों की मारपीटतो कभी मरीजों के साथ अमानवीय बर्ताव का मामला यहां आमतौर पर देखने को मिल ही जाता है. शुक्रवार को दो सीनियर डॉक्टरों ने रिम्स के अंदर मारपीट कर रिम्स को शर्मसार कर दिया था, वहीं शनिवार को रिम्स परिसर में एक बार फिर उस वक्त हड़कंप मच गया जब एंबुलेंस के चालकों ने आपस में जमकर मारपीट की. मौके पर मौजूद लोगों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया.

इसे भी पढ़ेंः रिम्स के दो कार्डियोलॉजिस्ट हेमंत नारायण व प्रकाश के बीच मारपीट, एक का पैर टूटा, दूसरे का हाथ

पैसेंजर और कमीशन के चक्कर में उलझते हैं एम्बुलेंस चालक

रिम्स परिसर में दर्जनों की संख्या में एंबुलेंस खड़ी रहती है. एंबुलेंस के चालक अक्सर पैसेंजर और कमीशन के चक्कर में अपने ही साथियों से उलझ पड़ते हैं. शनिवार को भी एंबुलेंस चालकों के बीच पैसेंजर को लेकर कहासुनी हो गयी, जिसके बाद यह मामला मारपीट में तब्दील हो गया. मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने झगड़ा कर रहे चालकों को शांत करवाया और झगड़े की सूचना बरियातू थाने को दी. थाने से पुलिस बल ने मौके पर पहुंचकर एंबुलेंस चालकों से पूरे मामले की जानकारी ली और वहां मौजूद चालकों को समझा-बुझाकर काम करने का सलाह दिया.

इसे भी पढ़ेंः बंदूक के संरक्षण और मुनाफे की लालच में नशे की खेती, चतरा, लातेहार और खूंटी के बीहड़ों में लहलहा रही अफीम की फसल

प्रति किलोमीटर की दर से चलता है एम्बुलेंस

 रिम्स परिसर में खड़े एंबुलेंस प्रति किलोमीटर की दर से चलाई जाती है. जिसमें ओमनी, बोलेरोटवेरा जैसी एम्बुलेंस शामिल हैं. रुपया प्रति किलोमीटर से लेकर 12 रुपया प्रति किलोमीटर की दर पर यहां एम्बुलेंस उपलब्ध रहता है. ज्यादा कमाई के चक्कर और पैसेंजर को अपनी गाड़ी में बैठाने की आपाधापी के कारण एंबुलेंस चालक एक दूसरे से उलझ पड़ते हैं.

इसे भी पढ़ेंः कौशल विकास योजना : डेढ़ साल पहले सिटी मैनेजर ने अफसरों व मंत्री को दी थी टेंडर में गड़बड़ी की जानकारी

झगड़े की जानकारी नहीं: प्रभारी निदेशक

एंबुलेंस चालकों के बीच हुए मारपीट के सवाल पर रिम्स के प्रभारी निदेशक डॉ. आरके श्रीवास्तव ने कहा कि आज हुए झगड़े की जानकारी नहीं है, हालांकी उन्होंने यह जरूर कहा कि पता नहीं रिम्स में आखिर क्या हो रहा है कि लोग आपा खो बैठ रहे हैं और मारपीट हो रही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...