न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रेटिंग एजेंसी मूडीज ने घटायी भारत की रेटिंग, कम आर्थिक वृद्धि का हवाला देकर आउटलुक किया नेगेटिव

मूडीज ने पर अपना नजरिया बदलते हुए रेटिंग को ‘स्थिर’ से ‘नकारात्मक’ कर दिया है.

1,023

New Delhi: आर्थिक मोर्चे से फिर एक बुरी खबर आयी है. रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने भारत की रेटिंग घटा दी है. मूडीज ने अपना नजरिया बदलते हुए आर्थिक व्यवस्था को ‘स्थिर’ से ‘नकारात्मक’ कर दिया है. एजेंसी ने कहा कि पहले के मुकाबले आर्थिक वृद्धि के बहुत कम रहने की आशंका है. इसलिए उसने रेटिंग घटाई है.

इसे भी पढ़ेंः#Ayodhya पर फैसले से पहले CJI रंजन गोगोई ने यूपी के मुख्य सचिव और डीजीपी को किया तलब

‘स्टेबल’ से घटाकर ‘नेगेटिव’ रेटिंग

एजेंसी ने भारत के लिए बीएए2 विदेशी-मुद्रा एवं स्थानीय मुद्रा रेटिंग की पुष्टि की है. रेटिंग एजेंसी ने एक बयान में कहा, परिदृश्य को नकारात्मक करने का मूडीज का फैसला आर्थिक वृद्धि के पहले के मुकाबले काफी कम रहने के बढ़ते जोखिम को दिखाता है.

Trade Friends

मूडीज के पूर्व अनुमान के मुकाबले वर्तमान की रेटिंग लंबे समय से चली आ रही आर्थिक एवं संस्थागत कमजोरी से निपटने में सरकार एवं नीति के प्रभाव को कम होते हुए दिखाती है. जिस कारण पहले ही उच्च स्तर पर पहुंचा कर्ज का बोझ धीरे-धीरे और बढ़ सकता है.

गौरतलब है कि इससे पहले अक्टूबर में ही मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस ने 2019-20 में जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को घटाकर 5.8 फीसदी कर दिया था. पहले मूडीज ने जीडीपी में 6.2 फीसदी की ग्रोथ होने का अनुमान जारी किया था. इससे पहले भी कई रेटिंग एजेंसियां पहले ही भारतीय अर्थव्यवस्था में बढ़त और यहां के नजरिए के बारे में अपने अनुमान को घटा चुकी हैं.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection : हेमंत की घोषणा, ‘कांग्रेस और आरजेडी के साथ मिल कर विधानसभा चुनाव लड़ेगा जेएमएम’

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like