समीक्षा बैठक में उपायुक्त ने अधिकारियों को दी हिदायत, कहा, "योजनाओं को कमाई का जरिया न बनाएं"

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 05/15/2018 - 18:35

Latehar : उपायुक्त राजीव कुमार की अध्यक्षता में स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग की बैठक आयोजित की गई. बैठक में उपायुक्त ने स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग से संचालित हो रही योजनाओं की समीक्षा के बाद विभाग द्वारा संचालित हो रही योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने का निर्देश दिया. उपायुक्त ने जिले के सभी 115 पंचायतों में उप स्वास्थ्य केन्द्र चलाने की बात कही. इस दौरान उन्होंने पाया कि जिले के महज 98 उप स्वास्थ्य केन्द्र ही चल रहे हैं जिस पर उपायुक्त ने स्कूल भवन में स्वास्थ्य केन्द्र खोलने एवं सही तरीके से संचालित करने के लिए एमपीडल्लू एवं एएनएम को पदस्थापित करने को लेकर सीएस को निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें- झारखंड में ओडीएफ की खुली पोल : अब तक मात्र आठ ही जिले ओडीएफ घोषित, सीएम व मंत्री भी जता चुके हैं नाराजगी

विभाग को लूट का जरिया नहीं बनाएं, रिक्त पदों को भी जल्द भरें : डीसी  

स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग की बैठक के दौरान उपायुक्त राजीव कुमार के द्वारा स्वास्थ्य विभाग की ओर से संचालित हो रही योजनाओं की जानकारी के लिए बनाएं गए पोस्टर मांगे गये. ताकि सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में लगाया जा सके. जिस पर डीपीएम के ने पोस्टर नहीं बनाएं जाने की बात कही.  इस बात पर उपायुक्त भड़़क गए और कहा कि सिर्फ पोस्टर हमें दिखाने के लिए बनाते है क्या ? विभाग के द्वारा संचालित योजनाओं को लूट का जरिया नहीं बनाएं. वहीं उपायुक्त राजीव कुमार ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित योजनाओं को गति प्रदान करने को लेकर अनुबंध पर खाली पड़े रिक्त पदों को भरने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें- रांची के दानिश और मंजर को एनआइए की विशेष अदालत ने आतंकी मामले में 7 साल की सजा सुनाई 

उज्ज्वला योजना की भी समीक्षा

वहीं उपायुक्त राजीव कुमार की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना को लेकर समीक्षात्मक बैठक आयोजित हुई बैठक में उपायुक्त ने अधिकारियों को केन्द्र सरकार के द्वारा मिले लक्ष्य को हर हाल में पूरा करने का निर्देश दिया. उन्होंने स्पष्ट कहा कि लक्ष्य पूरा नहीं किया गया तो ऐसे अधिकारियों एवं कर्मियों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी. बैठक में बताया गया कि जिले में कुल 95135 लाभुको को गैस कनेक्सन देना है. जिसमें अब तक 53 हजार की केवाईसी हो चुकी है. इसमें 36518 लाभुकों को गैस चूल्हा दिया जा चुका है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

na