डॉ. ममता राय की मौत से हटेगा रहस्य का पर्दा : मामले की सीबीआई जांच के लिए केरल सरकार से अनुरोध करेगी झारखंड सरकार

Publisher NEWSWING DatePublished Tue, 04/17/2018 - 16:27

Ranchi : जमशेदपुर के पास सरायकेला-खरसावां के आदत्यिपुर की रहने वाली प्रतिभाशाली डॉ. ममता राय की कोच्चि (केरल) के एक होटल में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत की सीबीआई जांच का रास्ता साफ होता नजर आ रहा है. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने डॉ. ममता राय जो एम्स नई दिल्ली में पोस्ट ग्रेजुएशन कर रही थी, की मृत्यु से संबंधित सेन्ट्रल पुलिस स्टेशन एर्नाकुलम थाना काण्ड संख्या 195/2018 दिनांक 30.01.2018 से संबंधित मामले को सीबीआई जांच कराने के लिए केरल सरकार से अनुरोध किये जाने के प्रस्ताव पर स्वीकृति दे दी है. गौरतलब है कि 19 जनवरी 2018 को डॉ ममता राय की मृत्यु होटल सीनेट कोच्चि में हो गई थी. वह एक सेमिनार एवं क्विज में भाग लेने नई दिल्ली से कोच्चि गई थीं.

इसे भी देखें- 30 साल पहले हुआ था जालिम नरसंहार, पीड़ितों की आंखों में आज भी नौकरी और मुआवजे का इंतजार

अब तक अनसुलझी है मौत की गुत्थी

बता दें कि 27 वर्षीय डॉ. ममता राय दिल्ली स्थित एम्स से डर्मेटोलॉजी (चर्म रोग) में पोस्ट ग्रेजुएट की पढ़ाई कर रही थीं. वह एकेडमिक कांफ्रेंस में हिस्सा लेने कोच्चि गई थीं. लेकिन होटल में उनकी संदेहास्पद मौत हो गई थी, जिसके बाद खुदकुशी का एंगल भी सामने आया था, जिससे मौत की मिस्ट्री उलझती चली गई. कोच्चि पुलिस के मुताबिक डॉ. ममता को स्थानीय अस्पताल में मृत अवस्था में ले जाया गया था. जबकि होटल के कमरे से सुसाइड नोट के साथ डिप्रेशन की दवा भी मिली. वह दिल्ली से 18 जनवरी को कोच्चि आई थी. उनका कमरा 17 से 22 जनवरी तक बुक था. पुलिस सूत्रों के मुताबिक घटना के वक्त डॉ. ममता की रूममेट बाहर गई थी. जब वह लौटी तो कमरे में ममता को फंदे से लटका देख शोर मचाया था, जिसके बाद उन्हें फंदे से उतारा गया था.

इसे भी देखें- झारखंड और बिहार में मनरेगा की सबसे कम मजदूरी, काम नहीं करना चाहते मजदूर

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...