प्रशासन के सख्त निर्देश के बाद भी पदाधिकारी मध्याह्न भोजन व्यवस्था को लेकर गंभीर नहीं

Publisher NEWSWING DatePublished Fri, 02/02/2018 - 19:46

Nityanand Dubey

Garhwa : रंका प्रखंड के दर्जन भर से अधिक विद्यालयों में पिछले एक पखवारे से मध्याह्न भोजन बंद है. इस वजह से बच्चों की उपस्थिति पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है. मिली जानकारी के अनुसार रंका बीआरसी परिसर स्थित बुनियाद विद्यालय में पिछले दो दिनों से विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्यों द्वारा बाजार से उधार चावल लेकर मध्याह्न भोजन संचालित किया गया है. विद्यालय में माता समिति के अध्यक्ष ने बताया कि शनिवार से इस विद्यालय में मध्याह्न भोजन चावल के अभाव में बंद हो जाएगा. वहीं उत्क्रमित मध्य विद्यालय हूरदाग, उर्दू मध्य विद्यालय चुतरू, उत्क्रिमत मध्य विद्यालय नगाड़ी, नवप्राथमिक विद्यालय हरिजन टोला बांदू, उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय जून समेत कई विद्यालयों में चावल के अभाव में पिछले एक पखवारे से एमडीएम बंद है. गढ़वा जिले में रंका प्रखंड का एकमात्र मॉडल विद्यालय के रूप में चिन्हित उत्क्रिमत मध्य विद्यालय भलुआनी में भी मध्याह्न भोजन बंद है. जिससे बच्चों की उपस्थिति पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें - जेएमएम के स्थापना दिवस पर बौखलायी बीजेपी, उठाया पांच साल पुराना मामला, अपने ही मुद्दे में फंसे भाजपायी

आवंटन के अभाव में बंद है मध्याह्न भोजन

प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी रंका, मोहम्मद इसहाक ने बताया कि रंका प्रखंड के कुछ विद्यालयों में चावल के आवंटन के अभाव में मध्याह्न भोजन बंद है. कुछ विद्यालयों में बंद होने के कगार पर है. इसकी जानकारी विद्यालय प्रबंधन समिति द्वारा मिली है. चावल आने के बाद ही, मध्याह्न भोजन चलायी जाएगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

City List of Jharkhand
loading...
Loading...

NEWSWING VIDEO PLAYLIST (YOUTUBE VIDEO CHANNEL)