Skip to content Skip to navigation

Interview

Interviews of Different Personalities

आज वे भू-माफिया होते जा रहे हैं..

‘अब संगठन के लोग बिनोद भगत के पास क्यों नहीं आ रहे, क्योंकि बिनोद भगत तो बाइक और बोलेरो देगा नहीं..! वो खुद भी आलू प्याज बेचेगा और हमें भी कहेगा कि तुम भी बेचो..! - विनोद भगत (इंटरव्‍यू)

एक बार फिर लुट जाएंगे झारखंडी!

सीएनटी और एसपीटी एक्ट में जो अमेंडमेंट हुए हैं, रघुवर दास सरकार उसका गलत प्रचार कर रही है। बदलाव कुछ हुए हैं और प्रचार कुछ और किया जा रहा है..!..     -डॉ करमा उरावं (इंटरव्‍यू)

'आदिवासी भाषाएं दयनीय हाल में हैं'

न्यूज विंग, रांचीः 90 बरस के कुड़ुख भाषा के इस योद्धा को उस दिन का इंतजार है जब झारखंड की माटी का कर्ज चुकाने के लिए इन्हें साहित्य अकादमी का भाषा सम्मान 2016 दिया जायेगा। हम बात कर रहे हैं झारखंड के लेखक और शिक्षाविद निर्मल मिंज की। कुड़ूख भाषा के क्षेत्र में विशेष काम करने के लिए सम्मानित करने

झारखंड में बिजली व्यवस्था : वर्तमान सिस्टम पर मेरे को तो भरोसा नहीं! - सांसद महेश पोद्दार

रांची: झारखंड में विकास को लेकर बहस गति पकड़ रही है। राज्य हित में यह अच्छा लक्षण है। सरकार के मुखिया और आला नेता जहां विकास के दावे ठोंक रहे हैं, नई नई घोषणाएं कर रहे हैं, वहीं उन घोषणाओं-दावों के विभिन्न पहलुओं पर बहस जारी है। विपक्षी जहां मीन-मेख निकाल रहे हैं, दावों-घोषणाओं को खोखला साबित करने

झारखंड के मुख्यमंत्री सचिवालय में हो एक विशिष्‍ट कोषांग

झारखंड में इन दिनों अपराध बढ़े हैं। उग्रवादी गतिविधियों में भी इजाफा देखा जा रहा है। लॉ एंड ऑर्डर की समस्या सुर्खियों में हैं। ऐसे में अक्सर राजनीतिक फेंका फेंकी ही अधिक होने लगती है। पुलिस महकमा पर ऊंगलियां उठना लाजिमी है। आपा धापी मचती है। घटना घट जाने के बाद कुछ मामले पुलिस सुलझा भी रही है। ले

केवल शहरीकरण विकास नहीं!

हाल ही में राष्ट्रीय अंगेजी दैनिक अखबार में झारखंड की नयी डोमिसाइल नीति के खिलाफ लेख छपवाने वाले सरकारी डॉक्टर और साहित्य अकादमी पुरस्कार प्राप्त लेखक डॉ हाँसदा सौभेन्द्र शेखर ने न्यूज विंग के वरीय संवाददाता रणजीत से कई मुद्दो

ब्युरोक्रैट्स चला रहे झारखंड सरकार, रघुवर दया के पात्र! - बाबुलाल मरांडी

: झारखंड विकास मोर्चा (प्र) के सुप्रीमो बाबुलाल मरांडी से किसलय की लंबी बातचीत :

सोचा न था, अभिव्यक्ति पर यूं आएगा खतरा : नंदिता दास

पणजी : देश में बढ़ती असहिष्णुता के मुद्दे पर आमिर खान, शाहरुख खान जैसे लोकप्रिय कलाकारों के बयानों पर उठे विवाद के बीच अभिनेत्री नंदिता दास ने भी देश के हालात पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि अभिव्यक्ति की आजादी पर रोक अब 'खतरनाक' मोड़ ले रही है और इसके खिलाफ आवाज उठाना, जोरदार तरीके से उठाना ही

Pages

Subscribe to RSS - Interview

नई दिल्ली: इस सदी में 'हम्मा हम्मा', 'तम्मा तम्मा', 'लैला मैं लैला' और 'सारा जमाना' जैसे पुराने ग...

मुंबई: राकेश ओम प्रकाश मेहरा की फिल्म 'मिज्र्या' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली अभिनेत्री सैया...

अभिनेत्री श्रद्धा कपूर यू तो हर बार एक अलग किरदार में नज़र आती है और ऐसा ही एक अलग किरदार श्रद्धा...

दुबई: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने गुरुवार को अपने नए वित्तीय मॉडल की घोषणा कर दी, जि...

Comment Box