न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोनस की मांग को लेकर हड़ताल पर जायेंगे चाय बागान के 75 हजार श्रमिक

224

Darjeeling: दार्जिलिंग की पहाड़ियों पर चाय बागानों में काम करनेवाले श्रमिक दुर्गा पूजा में भी बोनस नहीं मिलने को लेकर शुक्रवार को एकदिवसीय हड़ताल करेंगे.

इसमें 75 हजार श्रमिकों के शामिल होने की संभावना है. इसके पहले गुरुवार को बड़ी संख्या में श्रमिकों ने दार्जिलिंग बस स्टैंड के पास एकजुट होकर अनशन किया.

JMM

इसे भी पढ़ें – #ODF झारखंड का सच : कागजों पर #Toilet निर्माण दिखा राशि भी कर दी खर्च, जमीन पर सिर्फ गड्ढे और अधूरी दीवारें

चाय बागानों में काम होगा बंद

शहर में सुबह 10 बजे से ही चाय बगान के श्रमिक दार्जिलिंग बस स्टैंड के पास एकत्रित हो गये थे. उसके बाद सभी यूनियनों ने संयुक्त बैठक कर निर्णय लिया कि शुक्रवार को सभी चाय बागानों में काम बंद रखा जायेगा.

इससे बागान में चाय उत्पादन बड़े पैमाने पर प्रभावित हो सकता है. दार्जिलिंग के करीब 87 चाय बागानों की सभी सात कर्मचारी यूनियनों ने 12 घंटे की हड़ताल का आह्वान किया है.

Related Posts

स्वास्थ्य बीमा के दायरे में हैं राज्य के 7.5 करोड़ लोग : ममता बनर्जी

आज इंटरनेशनल यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज डे है.  बंगाल में सभी सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवा मुफ्त है.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

इसे भी पढ़ें – बच्ची के साथ #BDO द्वारा मारपीट और पुलिस कस्टडी में गगन नायक की मौत पर #NHRC में की गयी #Complain

बागानों के प्रबंधन तथा यूनियन नेताओं के बीच बोनस को लेकर वार्ता विफल होने के बाद हड़ताल करने का निर्णय लिया गया है. बताया गया है कि चार अक्टूबर को सुबह छह से शाम छह बजे तक ‘बंद’ रखा जायेगा.

दार्जिलिंग भारतीय चाय संघ (डीआइटीए) के सचिव मोहन छेत्री ने कहा कि यूनियनों ने 20 प्रतिशत बोनस की मांग की है. प्रबंधन ने सिर्फ 12 प्रतिशत बोनस देने की पेशकश की है.

उन्होंने कहा कि यूनियनों और चाय बागानों के प्रबंधन की 17 अक्टूबर को बैठक होगी, जिसमें बोनस पर अंतिम फैसला लिया जा सकता है लेकिन यह बहुत दुर्भाग्यजनक है कि दुर्गा पूजा शुरू हो चुकी है.

एक दिन बाद ही राज्यभर में लोग पूजा घूमेंगे लेकिन चाय बागान के श्रमिकों को कुछ भी नहीं दिया गया.

इसे भी पढ़ें – देखें वीडियोः शशिभूषण मेहता के #BJPमें शामिल होने पर बीजेपी कार्यालय में जमकर मारपीट, वीडियो वायरल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like