न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मॉनसून सत्र के दूसरे दिन 3908.63 करोड़ का अनुपूरक बजट पास

231

Ranchi: विधानसभा के मॉनसून सत्र के दूसरे दिन जोरदार चर्चा के बीच 3908 करोड़ 63 लाख 98 हजार 117 रुपये के अनुपूरक बजट को पास किया गया. प्रथम अनुपूरक बजट को लेकर झामुमो के रवींद्रनाथ महतो ने 10 रुपये की कटौती का प्रस्ताव लाया. कटौती प्रस्ताव के पक्ष में रवींद्रनाथ महतो, स्टीफन मरांडी, आलमगीर आलम, सुखदेव भगत और राजकुमार यादव ने अपने पक्ष रखे. वहीं कटौती प्रस्ताव के विपक्ष में राधाकृष्ण किशोर, मनीष जायसवाल, अनंत ओझा, रामकुमार पाहन और शिवशंकर उरांव ने अपने पक्ष रखे. सरकार के तरफ से जवाब संसदीय कार्यमंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने दिया. उन्होंने कहा कि विपक्ष ने राजनीतिक लाभ लेने के उद्देश्य से चर्चा की है. इस बात का रवींद्रनाथ महतो ने विरोध किया और कहा कि विषय आपके सिर के ऊपर से चला गया. इसके साथ ही झामुमो के विधायकों के साथ 4 बज कर 29 मिनट में सदन से बाहर चले गये. इस पर नीलकंठ सिंह मुंडा ने कहा कि तीन महीने के बाद हमेशा के लिए ये लोग सदन से बाहर चले जायेंगे. जिसके बाद ध्वनिमत से अनुपूरक बजट को पास कर दिया गया.

इसे भी पढ़ें – एक एसपी ने व्यवसायियों के साथ बैठक कर कहा, ऑफिस ठीक करा दें और शहर में सीसीटीवी लगाने के लिए चंदा दें

Trade Friends

अनुपरक बजट के पैसे का इस्तेमाल सरकार वोट बैंक बनाने में करेगीः रवींद्रनाथ महतो

झामुमो विधायक रविंद्रनाथ महतो ने कहा कि सरकार अनुपूरक बजट का इस्तेमाल चुनाव के लिए वोट बैंक बनाने में करेगी. उन्होंने अपने कटौती प्रस्ताव के दौरान कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही पेंशन योजना, आवास योजना सभी में भारी गड़बड़ी की जा रही है. साथ ही कहा कि सरकार ये तो स्वीकार कर रही है कि सुखाड़ की स्थिति बन रही है पर इसके लिए किसी तरह की वैकल्पिक व्यवस्था नजर नहीं आ रही. उन्होंने अपने कटौती प्रस्ताव में सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न योजनाओं में कई खामियां गिनायीं. उन्होंने कहा कि गांव में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बने आवास में लोग रहना नहीं चाहते.

WH MART 1

इसे भी पढ़ें –ब्रदर सिरिल ने सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर जमीन बेचा, पूर्व डीसी मनोज कुमार ने नियमों की अनदेखी कर दी अनुमति

राधाकृष्ण किशोर ने गिनाये कहां से आ रहे अनुपूरक बजट के पैसे

राधाकृष्ण किशोर ने कटौती प्रस्ताव के विपक्ष में बोलते हुए कहा कि विपक्ष को यह सवाल करना चाहिए था कि कहां से 3908 करोड़ रुपये आ रहे हैं, पर सवाल नहीं उठाया गया तो मैं ही इस सवाल का जवाब दे देता हूं. उन्होंने बताया कि 1447.29 करोड़ रुपये केंद्र सरकार राज्य सरकार को देगी. 1165.92 करोड़ राज्य के विभिन्न विभागों के माध्यम से सरकार को मिलेंगे. बाकी 1695.48 करोड़ रुपये राज्य के विभिन्न स्रोतों से आये रिवेन्यू से कलेक्ट करेंगे. राधाकृष्ण किशोर ने बताया कि 2016-2017 में 17316 करोड़ रिवेन्यू आया था. जो 2018-2019 में बढ़ कर 21411.03 करोड़ हुआ है. प्रत्येक वर्ष लगभग 2 हजार करोड़ अधिक रिवेन्यू आ रहा है.

इसे भी पढ़ें – धनबाद : अपराधियों ने जमीन कारोबारी को दिनदहाड़े गोलियों से भूना 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like