न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कृषि विशेषज्ञ पी साईंनाथ की नजर में मोदी सरकार की फसल बीमा योजना राफेल से भी बड़ा गोरखधंधा

फसल बीमा प्रदान करने का काम रिलायंस, एस्सार जैसी कंपनियों के हवाले किया गया है.

1,105

 Ahmedabad :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की फसल बीमा योजना राफेल से भी बड़ा घोटाला है. प्रख्यात पत्रकार पी साईंनाथ ने अहमदाबाद में यह बात कही. बता दें कि किसानों के मुद्दों पर   मुखर रहने वाले पी साईंनाथ ने सरकार की फसल बीमा योजना राफेल से बड़ा घोटाला कहा. इस क्रम में साईंनाथ ने कहा, वर्तमान मोदी सरकार की नीति किसान विरोधी है. कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना राफेल घोटाले से भी बड़ा गोरखधंधा है. आरोप लगाया कि फसल बीमा प्रदान करने का काम रिलायंस, एस्सार जैसी कंपनियों के हवाले किया गया है. जान लें कि पी साईंनाथ यहां शुक्रवार से चल रहे तीन दिवसीय किसान स्वराज सम्मेलन में बोल रहे थे.

इसे भी पढ़ें ;  अर्थशास्त्री देसाई, प्रोफेसर मिश्रा नेहरू मेमोरियल म्यूजियम सोसायटी से हटाये गये, अरनब, एस जयशंकर लाये गये

 कंपनी को बिना एक रुपये निवेश किये 143 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ

Trade Friends

सम्मेलन में साईंनाथ ने महाराष्ट्र का उदाहरण देते हुए कहा कि 2.80 लाख किसानों ने सोयाबीन की खेती की. बताया कि एक जिले में किसानों ने 19.2 करोड़ रुपये का भुगतान किया. राज्य सरकार और केंद्र सरकार ने 77-77 करोड़ रुपये का भुगतान किया. कुल राशि 173 करोड़ रुपये हुई जो रिलायंस बीमा को भुगतान की गयी. उन्होंने बताया कि पूरी फसल खराब हो गयी.  बीमा कंपनी ने दावों का भुगतान किया. कहा कि रिलायंस ने एक जिले में 30 करोड़ रुपये का भुगतान किया. कंपनी को बिना एक रुपये निवेश किये 143 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ. बता दे कि पूर्व में जून माह में नीतीश कुमार की कैबिनेट ने बिहार में प्रधानमंत्री फ़सल बीमा योजना को ख़ारिज कर दिया था. बिहार कैबिनेट की बैठक में इसके बदले एक नयी योजना मंजूर की गयी. बिहार मंत्रिमंडल ने किसानों को फसल क्षति पर आर्थिक सहायता देने के लिए बिहार राज्य फसल सहायता योजना को मंजूरी दी थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like