न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विधायक अनंत सिंह घर से  एके 47 रायफल बरामद, एफआईआर दर्ज, मांझी बोले, फंसाया गया है

अनंत सिंह  के  समर्थन में  राजद,  कांग्रेस और जन अधिकार पार्टी के बाद अब बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी भी उतर आये है.

224

Patna : बाहुबली  निर्दलीय विधायक अनंत सिंह घर से  शुक्रवार को एके 47 रायफल बरामद होने से वे मुश्किलों में घिरे हुए हैं. लेकिन अनंत सिंह  के  समर्थन में  राजद,  कांग्रेस और जन अधिकार पार्टी के बाद अब बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी भी उतर आये है.   मांझी ने मोकामा विधायक अंनत सिंह के घर से एके 47 बरामदगी मामले पर उनका बचाव किया है.  कहा है कि इस कार्रवाई से लगता है बिहार में सरकार ही एक क्रिमिनल है.  अनंत सिंह को साजिश  के तहत फंसाया जा रहा है. मांझी ने कहा कि जिस घर से हथियार बरामद हुआ है, उस घर में अंनत सिंह 14 वर्ष तक गये ही नहीं. उ

उन्हें राजनीति का शिकार बनाया गया है. पू्र्व सीएम मांझी ने कहा अनंत सिंह के साथ सरकार दलितों जैसा व्यवहार कर रही है और दलितों की तर्ज पर सरकार अनंत सिंह को फंसा रही है. उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि जैसे इमामगंज, डुमरिया में पुलिस किसी के घर में हथियार रखकर नक्सली करार कर देती है. उसी प्रकार अनंत सिंह के घर में एके 47 रखकर साजिश तहत फंसाया गया है.

JMM

इसे भी पढ़ें – 200 से ज्यादा लेखकों-सामाजिक कार्यकर्ताओं ने  पत्र जारी कर कहा,  जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल  370 हटाना असंवैधानिक

बिहार के कई राजनेताओं, ठेकेदारों के पास एके-47 है

Related Posts

#CitizenshipAmendmentBill: जेडीयू के समर्थन से नाराज प्रशांत किशोर

कहा- धर्म के आधार पर भेदभाव करने वाला है बिल

जीतन राम  मांझी ने कहा है कि बिहार के कई राजनेताओं, ठेकेदारों के पास एके-47 है.  सरकार उनके घर छापेमारी क्यों नहीं कर रही है. कहा कि हम सब को न्यायालय पर पूरा भरोसा है.   उनको बेल  मिल जायेगा.  बता दें कि ये वही मांझी हैं जब वे वर्ष 2015 में  मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने आरोप लगाया था अनंत सिंह और नीतीश कुमार में खूब बनती है. मांझी ने कहा था कि नीतीश अपने बाहुबली विधायक अनंत सिंह से मेरी और मेरे परिवार की हत्या करवा सकते हैं.

बहरहाल बदले सियासी माहौल में मांझी अब अनंत सिंह के बचाव में हैं. वहीं, कभी अनंत सिंह को खत्म कर देने का संकल्प लेने वाली लालू यादव की पार्टी राजद को भी अनंत सिंह अच्छे लग रहे हैं. शुक्रवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने अनंत सिंह का बचाव करते हुए कहा था कि सरकार के खिलाफ बोलने वालों के साथ ऐसा ही सलूक किया जा रहा है.

खबरों के अनुसार शुक्रवार को  निर्दलीय विधायक अनंत सिंह के नदावां गांव स्थित पैतृक घर पर पुलिस ने छापेमारी की थी. इस छापेमारी में प्रतिबंधित AK-47 बरामद हुई. . इस मामले में उनपर एफआईआर भी दर्ज कर लिया गया है. इससे पहले हत्या की सुपारी दिये जाने के आरोप में ऑडियो वायरल होने के मामले में विधायक का टेस्ट करवाया गया था. जिसकी रिपोर्ट का इंतजार पुलिस टीम कर रही है. अब हथियार मिलने से विधायक की मुश्किलें अब और भी बढ़ गयी हैं. अनंत सिंह पर अपराध से जुड़े मामलों की फेरहिस्त काफी लंबी है. हत्या की साजिश रचने के इस केस को जोड़ लें तो उन पर अभी तक अपराध के 53 अलग-अलग मामले दर्ज हैं.

इसे भी पढ़ें – श्रीनगर में  16 अगस्त को पुलिस और सैकड़ों प्रदर्शनकारियों के बीच संघर्ष होने की खबर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like