न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मॉब लिंचिंग पर आजम खान ने  कहा, बंटवारे के समय पाकिस्तान चले जाते मुसलमान, तो उन्हें यह सजा नहीं मिलती

समाजवादी पार्टी के  लोकसभा सांसद आजम खान ने मॉब लिंचिंग की आलोचना करते हुए कहा है कि मुसलमान 1947 के बाद भी सजा काट रहे हैं

48

NewDelhi : समाजवादी पार्टी के  लोकसभा सांसद आजम खान ने मॉब लिंचिंग की आलोचना करते हुए कहा है कि मुसलमान 1947 के बाद भी सजा काट रहे हैं. अगर मुसलमान पाकिस्तान चले जाते तो उन्हें यह सजा नहीं मिलती. कहा कि मुसलमान यहां हैं तो सजा भुगतेंगे. आजम खान ने कहा कि हमारे पूर्वज इसलिए नहीं गये पाकिस्तान, क्योकि उन्होंने इसे अपना वतन माना.  सपा सांसद ने कहा कि 1947 में मुसलमान पाकिस्तान क्यों नहीं गये? कहा कि यह मौलाना आजाद, पंडित जवाहर लाल नेहरू और सरदार पटेल से पूछिए, क्योंकि इन लोगों ने मुसलमानों से वादे किये थे.

उन्होंने ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की अपील पर मुसलमान पाकिस्तान नहीं गये थे. बापू ने मुसलमानों से कहा था कि ये देश तुम्हारा है, अगर बंटवारा बाकी के मुसलमान भी चाहते तो देश की ये सूरत नहीं होती.  आजम खान ने कहा कि मुसलमान बंटवारे के हिस्सेदार ही नहीं थे और उसके गुनहगार भी नहीं थे, लेकिन आज उसकी सजा मिल रही है. उन्होंने कहा कि मुसलमान बंटवारे के बाद से लगातार सजा भुगत रहा है. अब जो भी स्थिति हो मुस्लिम इसका सामना करेंगे.

JMM

आजम खान भू-माफिया  करार

Related Posts

#KarnatakaByElection : भाजपा सरकार रहेगी बरकरार, 15 विधानसभा सीटों में छह जीती,  6 पर आगे, कांग्रेस ने  हार  मानी

उम्मीद है कि शाम तक सभी सीटों के रिजल्ट घोषित कर दिये जायेंगे. ऐसे में कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकारते हुए कहा कि 15 सीटों पर मतदाताओं के जनादेश से हमें सहमत होना पड़ेगा.

जान लें कि  शुक्रवार को आजम खान को रामपुर में भू-माफिया घोषित किया गया. जौहर यूनिवर्सिटी के लिए किसानों की जमीनें कब्जाने के आरोप में फंसे आजम खान को प्रशासन ने भू-माफिया घोषित कर दिया है. इस संबंध में  जिला अधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि शासनादेश के  अनुसार  ऐसे लोगों को भू-माफिया घोषित किया जाता है, जो दबंगई से जमीनों पर कब्जा करने के आदी हैं. जो लोग अवैध कब्जे को छोड़ने के लिए तैयार नहीं हैं और जिनके खिलाफ पुलिस में केस दर्ज है. उनका ही नाम उत्तर प्रदेश एंटी भू माफिया पोर्टल पर दर्ज कराया जाता है. सरकार भी इसकी निगरानी करती है.

उप-जिलाधिकारी सदर प्रेम प्रकाश तिवारी  की ओर से आजम का नाम उत्तर प्रदेश एंटी भू-माफिया पोर्टल पर दर्ज कराया गया है. आजम खान के खिलाफ एक सप्ताह के दौरान जमीन कब्जाने के 13 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं. इनमें एक मुकदमा 12 जुलाई को प्रशासन की ओर से दर्ज कराया गया, जिसमें कहा गया है कि आलिया गंज के 26 किसानों ने जमीन कब्जाने का आरोप लगाया है.

इसे भी पढ़ें- आरिफ मोहम्मद खान ने कहा, तीन तलाक पर कानून नहीं बनाया, तो मोदी सरकार भी राजीव गांधी वाली गलती करेगी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like