न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : बीड़ी पत्ता गोदाम में लगी आग, #Police को संदेह- #Insurance के पैसे के लिए ठेकेदार ने तो नहीं लगवायी आग?

826

Palamu :  पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर से सटे चैनपुर के शाहपुर में स्थित बीड़ी पत्ता से भरे गोदाम में आग लग गयी. आग लगाने का आरोप उग्रवादी संगठन जेजेएमपी पर लगा है.

यह भी कहा जा रहा है कि कुछ दिनों पहले जेजेएमपी के महेश ने बीड़ी पत्ता ठेकेदार सुबोध कुमार गुप्ता से पंाच लाख रूपये लेवी मांगी थी. नहीं देने पर बीड़ी पता जला देने की धमकी दी गयी थी. घटनास्थल से जेजेएमपी उग्रवादियों द्वारा छोड़ा गया हस्तलिखित पर्चा भी बरामद किया गया है.

Trade Friends

शुक्रवार को गोदाम से धुआं उठते देखकर आग लगने की जानकारी हुई. सूचना के बाद फायरबिग्रेड के दो वाहनों की सहायता से आग पर काबू पाया गया. बीड़ी पत्ता ठेकेदार सुबोध कुमार गुप्ता के भाई रविन्द्र कुमार गुप्ता ने बताया कि इस घटना में दो करोड़ का नुकसान हुआ है. हालांकि पुलिस इसे संदेहास्पद मामला मानकर चल रही है.

इसे भी पढ़ें : #BabulheldHostage : #BJP नेत्री ने कहा- छात्रों ने मेरे कपड़े फाड़े और बदसलूकी की, SFI ने कहा- MP ने युवतियों को हाथ लगाया था

आग लगने की दी गयी जानकारी संदेहास्पद : एसपी

जिले के पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. जांच के बाद स्थिति पूरी तरह स्पष्ट हो पायेगी कि आग कैसे लगी या फिर लगायी गयी?

उन्होंने कहा कि गोदाम का दरवाजा बंद था. गोदाम के अंदर बिजली का कनेक्शन भी नहीं रखने का निर्देश है. आग गोदाम के वेंटिलेटर से ज्वलनशील सामान फेंक कर लगाये जाने की जानकारी दी गयी है. गोदाम में बीड़ी पता के बोरे भरे पड़े थे.

आग लगाने के लिए कोई ज्वलनशील पदार्थ ऊपर से फेंका जायेगा तो आग ऊपरी हिस्से से लगेगी, लेकिन छानबीन में पता चला कि आग नीचे से लगते हुए ऊपर की ओर गयी है. इससे मामला संदेह के घेरे में है. जहां तक जेजेएमपी के पर्चे का सवाल है तो यह पूरी तरह फेंक प्रतीत होता है.

पर्चा हाथ से लिखा गया है, जो मामले में संदेह पैदा करता है. एसपी ने बताया कि गोदाम में रखे सारे पत्ते इंशोरड थे. इसलिए मामला दूसरा भी हो सकता है, लेकिन जांच के बाद ही ठोस जानकारी दी जा सकती है.

इसे भी पढ़ें : पार्किंग के लिए पहाड़ काट रहा #RockGarden प्रबंधन, #GroundWaterLevel गिरने और लैंड स्लाइडिंग का बढ़ा खतरा

मामला पूरी तरह सस्पेक्टेड: थाना प्रभारी

WH MART 1

इधर, चैनपुर के थाना प्रभारी सुनीत कुमार ने बताया कि मामला पूरी तरह सस्पेक्टेड है. ठेकेदार ने लेवी मांगने की धमकी दिए जाने की जानकारी कभी नहीं दी. अगर जेजेएमपी ठेकेदार से लेवी की मांग कर रहा था और उग्रवादियों की मंशा ठेकेदार को नुकसान पहुंचाने की थी तो गोदाम परिसर में लगे वाहनों में भी आग लगायी जाती, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

परिसर में एक बोलेरो और ट्रक लगे हुए थे, उसे कोई नुकसान नहीं हुआ. आखिर पत्ते को नुकसान पहुंचाना, कई सवाल पैदा करते हैं?

ठेकेदार पर डेढ़ करोड़ का टैक्स बकाया

छानबीन में पता चला है कि सरकार का ठेकेदार पर डेढ़ करोड़ रूपया टैक्स का बकाया है. गोदाम में रखे सारे पत्ते इंशोरड थे. घटना में दो करोड़ का बीड़ी पत्ता जल जाने की शिकायत की जा रही है.

बीड़ी पता का कारोबार लाॅस में चल रहा है. ऐसे में आशंका व्यक्त की जा रही है कि लाॅस में चल रहे इस कारोबार को फायदे में लाने और इंशोरेंस का पैसा पाने के लिए ठेकेदार ने खुद ही आग लगायी होगी? हालांकि मामले में जांच की जा रही है.

जेजेएमपी की करतूत: परिजन

ठेकेदार के परिजनों का आरोप है कि पांच लाख रूपया नहीं देने के कारण जेजेएमपी के कमांडर महेश सिंह खरवार ने गोदाम में आग लगा दी है. डेढ़ महीने पहले पांच लाख रूपये लेवी की मांग की गयी थी, नहीं देने पर गोदाम में घुसकर आग लगा देने की धमकी दी थी. आग लगाने के पीछे जेजेएमपी का हाथ है.

गढ़वा के भंडरिया के कुरूप जंगल में कुछ माह पूर्व दो ट्रक लेवी के लिए जला दिए गए थे. एक पुराने मामले में गत 18 सितम्बर को सुबोध कुमार गुप्ता को जमानत मिलनी थी, लेकिन 17 सितम्बर को ही गढ़वा पुलिस सुबोध और उसके पार्टनर अजय साव को मेदिनीनगर से गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

अभी दोनों गढ़वा जेल में है. उग्रवादी और प्रशासनिक अधिकारी लगातार सुबोध को परेशान कर रहे हैं. आग लगने के बाद व्यवसाय को भारी नुकसान हुआ है.

इसे भी पढ़ें : #MPSudarshanBhagat की CDPO पत्नी पर सब मेहरबान, तबादले के एक साल बाद भी पुरानी जगह ही जमीं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like