न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिहारः चमकी बुखार और लू से 200 से ज्यादा लोगों की मौत, आज नीतीश करेंगे हवाई सर्वेक्षण

बच्चों में बढ़ रहा दिव्यांग होने का खतरा

838

Patna: बिहार में इन दिनों लू और चमकी बुखार का जानलेवा कहर चरम है. सूबे में बीमारी और लू से मरने वालों की संख्या 200 को पार कर चुकी है. चमकी बुखार के कारण जहां 135 बच्चों की मौत हो चुकी है. वहीं गर्मी और लू के कारण 75 लोगों की जान जाने की खबर है.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: पत्नी की सिलाई से चलता है घर, पैसों के अभाव में बेटा कई परीक्षाओं से हुआ वंचित

JMM

सीएम का हवाई सर्वेक्षण

इस बीच सूबे के हालात का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 20 जून (गुरुवार) को हवाई सर्वेक्षण करेंगे. नीतीश कुमार नवादा, गया और औरंगाबाद जिलों के कई जगहों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे.

हवाई सर्वेक्षण के बाद मुख्यमंत्री गया के एएनएमएमसीएच जाएंगे, जहां लू और गर्मी की वजह से बीमार लोगों का हाल-चाल जानेंगे.

चमकी बुखार का कहर

इधर चमकी बुखार ने कहर बरपा रखा है. खासतौर से मुजफ्फरपुर में बुरी तरह से मासूम इस बीमारी की चपेट में हैं. मरने वाले बच्चों की संख्या 130 के आंकड़े को पार कर गयी है.

Bharat Electronics 10 Dec 2019
Related Posts

#CitizenshipAmendmentBill: जेडीयू के समर्थन से नाराज प्रशांत किशोर

कहा- धर्म के आधार पर भेदभाव करने वाला है बिल

इसे भी पढ़ेंःपंचायतों में लगने वाली 3.84 लाख की जलमीनार को 1.5 लाख में लगवा रहे हैं वेंडर, बाकी राशि कमीशनखोरी की भेंट

वहीं पिछले 24 घंटे के अंदर श्रीकृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में 75 नए मरीज भर्ती हुए हैं. 418 बच्चों का इलाज चल रहा है, जिसमें कई की हालत गंभीर बताई जा रही है.

आंकड़ें बता रहे हैं कि स्थिति कितनी भयावह है. लेकिन ना तो राज्य सरकार, ना ही डॉक्टर अब तक इस बात का सही से पता लगा पाये हैं कि ये बीमारी कौन सी है.

हालांकि, मुजफ्फरपुर और आसपास के इलाकों में इसे चमकी कहा जा रहा है, लेकिन बीमारी की असल वजह अभी तक पकड़ में नहीं आयी है.

दिव्यांग होने का बढ़ रहा खतरा

एक ओर चमकी बुखार से मासूमों की मौत को रोकने में स्वास्थ्य विभाग विफल नजर आ रहा है. वहीं आशंका जताई जा रही है कि इस बीमारी से पीड़ित बच्चे दिव्यांग भी हो सकते हैं.

यह खुलासा पटना एम्स के डॉक्टरों ने किया है. उनका कहना है कि इस बीमारी के दौरान तेज बुखार चढ़ता है, जिसका असर दिमाग के एक हिस्से पर काफी ज्यादा पड़ जाता है. ऐसे में विकलांग होने की आशंका काफी ज्यादा बढ़ जाती है.

इसे भी पढ़ेंःऔर… देखते ही देखते रांची-गुमला हाईवे पर से गुम हो गया जेपी उद्यान

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like