न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#BJP ने कुर्मी जाति को छलने का काम किया, इस बार 20 से अधिक सीटें नहीं लाने देंगे : कुड़मी विकास मोर्चा

कुड़मी विकास मोर्चा के बैनर तले गुरुवार को गांधी सेवा सदन में सम्मेलन का आयोजन किया गया.  कार्यक्रम में कुड़मी समाज के विभिन्न पंचायतों, प्रखंड और जिला स्तर के लोग शामिल हुए.

148

Dhanbad : कुड़मी विकास मोर्चा के बैनर तले गुरुवार को गांधी सेवा सदन में सम्मेलन का आयोजन किया गया.  कार्यक्रम में कुड़मी समाज के विभिन्न पंचायतों, प्रखंड और जिला स्तर के लोग शामिल हुए.  कार्यक्रम में कुड़मी समाज के केंद्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कुड़मी महतो जनजाति को पुनः अनुसूचित जाति में शामिल किया जाये.

नहीं तो बीजेपी का नारा…अबकी बार 65 पार… इसे हमलोग पूरा नहीं होने देंगे. उन्होंने कहा कि अगर कुड़मी जाति की उपेक्षा की गयी तो पूरे झारखंड में भाजपा को 20 से अधिक सीट नहीं लाने देंगे.

JMM

इसे भी पढ़ें :  #ViralVideo: मुख्यमंत्री जोहार जनआशीर्वाद यात्रा में क्या नहीं जुट रही भीड़, महिलाओं को साड़ी का लालच देकर बुलाया!

पिछले चुनाव में भाजपा ने दिया था आश्वासन

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुड़मी विकास मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष शीतल औदार ने कहा कि भाजपा ने कुर्मी जाति को छलने का काम किया है. पिछली बार के चुनाव में भाजपा की ओर से कहा गया था कि अगर केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार बन जायेगी तो कुर्मी जाति की मांगों को मान लिया जायेगा और उसे अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिया जायेगा.

लेकिन दोनों जगह सरकार बन जाने के बाद कुर्मी जाति की मांगों पर भाजपा सरकार की ओर से कोई विचार नहीं किया गया. अब इस चुनाव में हमलोग इसका जवाब देंगे और भाजपा को हराने का काम करेंगे. उन्होंने कहा कि अगर भाजपा उनकी उपेक्षा करती है तो वे भाजपा को पूरे राज्य में 20 से अधिक सीटें नहीं लाने देंगे.

इसे भी पढ़ें : #Jamshedpur: कोल्हान में नेताओं की लंबी लिस्ट में उलझी BJP, चेहरे के संकट से जूझ रहा JMM, चाईबासा में CONG की हुंकार

भाजपा ने मांगों को खारिज करने की कोशिश की

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार बनने के बाद उनकी मांगें अनसुनी कर दी गयी. उल्टा हमारी मांगों को खारिज करने की कोशिश की गयी. कुर्मी समाज इस बात को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा.

उन्होंने बताया कि भाजपा के इस रवैया से पूरे झारखंड में कुर्मी समाज के लोगों में आक्रोश का माहौल है. इसलिए कुर्मी समाज इस बार के चुनाव में भाजपा को सबक सिखाने के मूड में है. कुर्मी जाति की उपेक्षा किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी.

इसे भी पढ़ें : #BJP: क्या भीतरघात से बच पायेंगे भाजपा में शामिल हुए विपक्ष के पांचों विधायक, मामला बड़ा नजदीकी है!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like