न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#BJP को टाटा ट्रस्ट से 2018-19 में मिला 350 करोड़ रुपये से अधिक का चंदा

848

New Delhi : भाजपा को 2018-19 के दौरान टाटा समूह द्वारा नियंत्रित एक चुनावी ट्रस्ट से 356 करोड़ रुपये का चंदा मिला. सत्तारूढ़ दल ने यह जानकारी निर्वाचन आयोग में जमा किये गये दस्तावेजों में दी है.

भाजपा द्वारा निर्वाचन आयोग को 31 अक्टूबर को दी गयी जानकारी के अनुसार पार्टी को वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान चेक और ऑनलाइन भुगतान के दौरान कुल 700 करोड़ रुपये से अधिक का चंदा मिला.

JMM

इसमें से लगभग आधा चंदा-356 करोड़ रुपये-टाटा समूह द्वारा नियंत्रित ‘प्रोग्रेसिव इलेक्टोरल ट्रस्ट’ से मिला.

इसे भी पढ़ें : #Palamu : चुनावों में अहम मुद्दा रही जपला सीमेंट फैक्ट्री कबाड़ के भाव बिक गयी, मोदी ने भी किया था खोलने का वादा

सबसे धनी ट्रस्ट ने दिया 54.25 करोड़

दस्तावेजों के अनुसार भारत के सबसे धनी ट्रस्ट- ‘द प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट’ ने पार्टी को 54.25 करोड़ रुपये का चंदा दिया.

इस ट्रस्ट को भारती ग्रुप, हीरो मोटोकॉर्प, जुबिलैंट फूडवर्क्स, ओरियंट सीमेंट, डीएलएफ, जेके टायर्स जैसे कॉरपोरेट घरानों का समर्थन प्राप्त है.

Related Posts

#UnnaoHorror : पीड़िता के परिजनों से मिलीं  प्रियंका, कहा, दोषियों का कनेक्शन भाजपा से…

राज्य में अपराधियों के बीच कोई डर नहीं है. मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि राज्य में अपराधियों के लिए कोई जगह नहीं है, लेकिन उन्होंने राज्य को क्या बना दिया. मुझे लगता है कि यहां महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं है.

उपलब्ध करायी गयी सूचना 20 हजार रुपये या इससे अधिक के चंदे से जुड़ी है जिसका भुगतान चेक के जरिये या ऑनलाइन किया गया.चुनावी बांड के रूप में प्राप्त चंदा इसमें शामिल नहीं है.

दस्तावेज में कहा गया कि भाजपा को व्यक्तियों, कंपनियों और चुनावी ट्रस्टों की ओर से चंदा मिला.

इसे भी पढ़ें :#JharkhandElection : कांग्रेस सह-प्रभारी उमंग सिंघार की उदासीनता का कारण आरपीएन सिंह से नाराजगी तो नहीं?

खुलासा करना आवश्यक

चुनाव संहिता के अनुसार राजनीतिक दलों के लिए वित्त वर्ष के दौरान मिलने वाले समूचे चंदे का खुलासा करना आवश्यक है.

वर्तमान में राजनीतिक दलों के लिए ऐसे लोगों और संगठनों के नामों का खुलासा करने की अनिवार्यता नहीं है जो 20 हजार रुपये से कम का चंदा देते हैं या फिर जो लोग चुनावी बांड के रूप में चंदा देते हैं.

इसे भी पढ़ें : बीजेपी का टिकट बंटवाराः 130 करोड़ के दवा घोटाले के आरोपी भानू प्रताप को टिकट और घोटाले को उजागर करनेवाले सरयू राय होल्ड पर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like