न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मवेशी तस्करों के खिलाफ BSF का अभियान जारी, एक को लगी गोली, 13 गिरफ्तार

155 मवेशियों को भी बचाया गया है जिसकी कीमत 13 लाख 51 हजार 871 रुपये है

1,046

Kolkata : भारत-बांग्लादेश सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों पर मवेशी तस्करों द्वारा की गयी बमबारी के बाद बीएसएफ ने लगातार सख्ती अभियान चला रखा है.

शनिवार देर रात मालदा, मुर्शिदाबाद, उत्तर 24 परगना और नदिया जिले में पांच अलग-अलग मामलों में कार्रवाई करते हुए बीएसएफ की टीम ने 11 बांग्लादेशी नागरिकों सहित 13 मवेशी तस्करों को गिरफ्तार किया है, जबकि गोली लगने के कारण एक भारतीय मवेशी तस्कर घायल हो गया है.

JMM

घायल तस्कर का नाम मुस्तफा गाजी (25) है. वह उत्तर 24 परगना के स्वरूपनगर थाना अंतर्गत बलाती गांव का निवासी है. बसीरहाट अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है.रविवार को बीएसएफ के दक्षिणी कमान के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अयोध्या कर्मकार ने इस बारे में जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीहः नेटवर्किंग कंपनी ने पंखा और किट बनाने का प्रशिक्षण देने के नाम पर युवाओं से की ठगी

अत्याधुनिक हथियारों से किया था हमला

उन्होंने बताया कि अलग-अलग मामलों में बीएसएफ की टीम को घेरकर तस्करों ने जबरदस्ती मवेशियों की तस्करी सीमा पार करने की कोशिश की थी. इसके अलावा तस्करों ने अत्याधुनिक हथियारों के जरिये हमला करने की भी कोशिश की जिसके बाद बीएसएफ की टीम ने बचाव में जवाबी फायरिंग की.

Related Posts

स्वास्थ्य बीमा के दायरे में हैं राज्य के 7.5 करोड़ लोग : ममता बनर्जी

आज इंटरनेशनल यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज डे है.  बंगाल में सभी सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवा मुफ्त है.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

सात राउंड गोली चलायी गयी जिसमें मुस्तफा गाजी को गोली लगी है. अधिकतर तस्कर अंधेरा और झाड़ियों का फायदा उठाकर फरार होने में सफल रहे हैं. हालांकि 11 बांग्लादेशी तस्करों और दो भारतीय तस्करों को गिरफ्तार करने में बीएसएफ की टीम को सफलता मिली है.

इसे भी पढ़ें : सीमा पर 22 लाख रुपये की प्रतिबंधित दवा के साथ तस्कर गिरफ्तार

एक जवान का उड़ गया था हाथ

इसके साथ ही 155 मवेशियों को भी बचाया गया है जिसकी कीमत 13 लाख 51 हजार 871 रुपये है. इन सभी मवेशियों को तस्करों सहित संबंधित जिलों के स्थानीय थानों के हवाले कर दिया गया है ताकि आगे की कानूनी कार्रवाई की जा सके.

उल्लेखनीय है कि तीन दिन पहले बांग्लादेशी तस्करों ने भारतीय तस्करों के साथ मिलकर बीएसएफ की टीम पर हमला कर दिया था जिसमें एक जवान का हाथ उड़ गया था. उसके बाद से बीएसएफ ने सीमा पर चौकसी और सख्ती बढ़ा दी है.

इसे भी पढ़ें : पलामू : भतीजी के बैंक खाते से 6 लाख उड़ाने वाला फूफा चढ़ा पुलिस के हत्थे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like