न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लूटपाट के दौरान भागने पर मारी गयी थी व्यवसायी विपिन साहू को गोली, 5 अपराधी गिरफ्तार

1,321

Ranchi:  नयासराय पुंदाग में 19 सितंबर को लूटपाट के दौरान भागने के क्रम में अपराधियों ने जेवर व्यवसायी विपिन साहू को गोली मारी थी. घटना के 9 दिन बाद विपिन साहू की मेडिका हॉस्पिटल में मौत हो गयी थी.

जेवर व्यवसायी विपिन साहू हत्याकांड खुलासा करने के लिए एसएसपी अनीश गुप्ता के निर्देश पर पुलिस की टीम ने कार्रवाई करते हुए हत्याकांड में शामिल पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया. हत्याकांड में शामिल पांच अपराधियों में नैयर अंसारी, जुलफान अंसारी, धर्मेन्द्र कच्छप, नवीन कुमार और अजीत कुमार सिंह शामिल हैं.

JMM

इस घटना में शामिल एक अन्य अभियुक्त सुजीत ठाकुर फरार है. पुलिस ने इनके पास से एक देशी कट्टा एक पिस्तौल और एक मोटरसाइकिल बरामद किया है. गिरफ्तार हुए पांचों अभियुक्तों द्वारा स्वीकार किया गया कि इससे पूर्व अगस्त 2019 में रातू थाना क्षेत्र में महिला से छिनतई की घटना का अंजाम भी दिया था.

इसे भी पढ़ें- #NGO बनाने के नाम पर महिला से 30 लाख की ठगी, आरोपी गिरफ्तार

हत्या करने की नहीं थी कोई मंशा

विपिन साहू हत्याकांड में शामिल पांच अपराधियों को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने जब इन सभी अपराधियों से पूछताछ की तो अपराधियों ने बताया कि विपिन साहू की हत्या करने की कोई मंशा नहीं थी. सिर्फ लूटपाट करने की योजना थी. लेकिन लूटपाट के दौरान विपिन साहू भागने लगे. इसी दौरान विपिन साहू को गोली मार दी गयी.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

 दो अपराधियों ने की थी रेकी

विपिन साहू तेरे कि उनके घर के सामने रहने वाले नैयर अंसारी अपने सहयोगी नवीन के साथ की थी. अंसारी को पता था कि विपिन साहू हर दिन अपने दुकान से लौटने क्रम में रुपया लेकर घर वापस आता है. इसी को लेकर नैयर अंसारी ने अपने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर लूटपाट की योजना बनाई थी.

इसे भी पढ़ेंः #CricketTest : दक्षिण अफ्रीका को पारी और 137 रन के अंतर से हराकर भारत ने श्रृंखला अपने नाम की

इस तरह वारदात को दिया अंजाम

20 सितंबर की रात करीब साढ़े आठ बजे विपिन अपने भाई प्रकाश सोना के साथ नयासराय स्थित अपने घर लौट रहे थे. उसी दौरान पुंदाग नयासराय पुल के पास पहले से घात लगा कर बैठे जुल्फान अंसारी, धर्मेंद्र कच्छप और अजीत कुमार सिंह ने विपिन साहू को रोकने का प्रयास किया. रोकने के क्रम में विपिन साहू बाइक समेत गिर गये और भागने लगे.

इसी क्रम में जुल्फान अंसारी विपिन साहू को गोली मार दी. राहगीरों की मदद से भाई मेडिका अस्पताल लेकर पहुंचे मेडिका के आइसीयू में भर्ती कराया गया जहां नौ दिन बाद मौत हो गयी.

इसे भी पढ़ेंः #EconomicSlowdown  : अब World Bank ने 2019-20 में भारत का GDP अनुमान घटा कर 6 फीसदी किया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like