न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जया प्रदा पर टिप्पणी मामला : आजम खान को महिला आयोग ने थमाया नोटिस, कांग्रेस ने की बयान की निंदा

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने खान की टिप्पणी को बेहद शर्मनाक करार दिया

101

New Delhi : समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने रामपुर से लोकसभा चुनाव लड़ रही भाजपा प्रत्याशी और फिल्म अभिनेत्री जया प्रदा के खिलाफ एक विवादास्पद टिप्पणी की है. राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने खान की टिप्पणी को बेहद शर्मनाक करार दिया और कहा कि महिला आयोग उन्हें कारण बताओ नोटिस भेज रहा है.

खान की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये शर्मा ने ट्वीट किया कि एनसीडब्ल्यू चुनाव आयोग से यह भी अनुरोध करेगा कि उन्हें चुनाव लड़ने से रोक दिया जाए. शर्मा ने यह प्रतिक्रिया एक अन्य व्यक्ति के ट्वीट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए दी, जिसने सपा नेता का कथित वीडियो ट्वीट किया था. खान की अपमानजनक टिप्पणी वाला वीडियो कई सोशल मीडिया साइटों पर साझा किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – पिछली बार नरेंद्र मोदी के खिलाफ लड़ा था चुनाव, इस बार रांची लोकसभा से चुनावी मैदान में

आजम खान का दिया बयान

Trade Friends

वीडियो के मुताबिक, रामपुर में एक चुनावी सभा में खान ने कहा कि रामपुर वालों, उत्तर प्रदेश वालों, हिंदुस्तान वालों! उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लग गए. मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का जो अंडरवियर है वह भी खाकी रंग का है.

मैं 17 दिन में पहचान गया, आपको पहचानने में 17 बरस लगे, 17 बरस. हालांकि आजम खान ने वीडियो में जयाप्रदा का नाम नहीं लिया है लेकिन भाजपा इसे जया के खिलाफ अभद्र टिप्पणी के रूप में पेश कर रही है.

खान की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए शर्मा ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक है.

इसे भी पढ़ें – जेएमएम उम्मीदवार जगरनाथ महतो को पता होना चाहिए कि नेता का सौदा हो चुका है : आजसू

अखिलेश यादव करें आजम के खिलाफ कार्रवाई

वहीं कांग्रेस ने रामपुर से भाजपा उम्मीदवार जया प्रदा के खिलाफ समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान की आपत्तिजनक टिप्पणी की निंदा की है. कांग्रेस की ओर से कहा गया है कि इस पर चुनाव आयोग और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को आजम के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.

पार्टी प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर कहा कि जया प्रदा पर आजम खान की टिप्पणी का स्तर भद्दा और तुच्छ है. ऐसे बयान एक जीवंत लोकतंत्र के लिए अपमानजनक है.

उन्होंने कहा कि आशा करता हूं कि चुनाव आयोग और अखिलेश यादव इसका संज्ञान लेंगे और कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे. सिंघवी ने कहा कि निश्चित तौर पर आज़म खान का बयान निंदनीय है. राजनीति में उन लोगों के लिए कोई जगह नहीं है जो विरोधियों की आलोचना करते हुए मर्यादित विमर्श बरकरार नहीं रख सकते हैं.

इसे भी पढ़ें – सेना के अफसरों के बाद अब 200 वैज्ञानिकों ने की अपील, विरोधियों को देशद्रोही बताने वाली ताकतों को न…

SGJ Jewellers

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like