न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#EuropeanMPs के #Kashmir दौरे पर कांग्रेस का आरोप, #Modi सरकार ने कश्मीर का अंतरराष्ट्रीयकरण किया , यह संसद का अपमान

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पिछले 72 साल से देश की स्पष्ट नीति है कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है और इसमें हम किसी भी तीसरे पक्ष की दखलंदाजी स्वीकार नहीं करेंगे.

37

NewDelhi : यूरोपीय संघ के सांसदों के कश्मीर दौरे को लेकर कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने जानबूझकर कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण किया है. भाजपा सरकार ने देश की संसद और प्रजातंत्र का घोर अपमान किया है.

इस संबंध में कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि उन्होंने कहा कि हमारे अपने सांसद और विपक्ष के नेताओं के कश्मीर जाने पर भाजपा गिरफ्तार कर वापस भेज देती है, जबकि निजी यात्रा पर आये यूरोपीय सांसदों के लिए रेड कार्पेट बिछा रही है.

Jmm 2

इसे भी पढ़ें : #SC के अगले #CJI जस्टिस बोबडे ने कहा, देश में कुछ लोगों को बोलने की पूरी आजादी, कुछ हो जाते हैं हमलों के शिकार

कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है

रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पिछले 72 साल से देश की स्पष्ट नीति है कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है और इसमें हम किसी भी तीसरे पक्ष की दखलंदाजी स्वीकार नहीं करेंगे. आरोप लगाया कि पिछले तीन दिनों में इस नीति को मोदी सरकार ने पलट दिया है. यह अक्षम्य अपराध है.

कहा कि देश ने एक अंतरराष्ट्रीय ब्रोकर द्वारा प्रायोजित मोदी सरकार का अपरिपक्व, विवेकहीन और मूर्खतापूर्ण प्रचार-स्टंट देखा. पूरी तरह से अनजान थिंक-टैंक द्वारा यूरोपीय संसद के 27 सदस्यों को भारत लाकर पीएम से मुलाकात कराई गयी.

Bharat Electronics 10 Dec 2019
Related Posts

#GSTCompensation :  शिवसेना ने मोदी सरकार को चेताया, कहा,  केंद्र और राज्यों के बीच संघर्ष छिड़ सकता है

मुखपत्र सामना में प्रकाशित संपादकीय में कहा, जीएसटी लागू होने की वजह से राज्यों को होने वाले राजस्व के नुकसान की मद में 50,000 करोड़ रुपये का भुगतान करने का केंद्र ने वादा किया था.

इसे भी पढ़ें : #UN ने कहा, #Kashmir के हालात पर दायर याचिकाओं पर  #SC में सुनवाई की गति धीमी

भारत के इतिहास की सबसे बड़ी कूटनीतिक भूल

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि यह भारत के इतिहास की सबसे बड़ी कूटनीतिक भूल है. मोदी सरकार ने जानबूझकर कश्मीर का अंतरराष्ट्रीयकरण किया है. कश्मीर को आंतरिक मामला मानने की हमारी नीति का उल्लंघन किया गया है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने कश्मीर के जमीनी हालात का आकलन करने के लिए तीसरे पक्ष को शामिल कर बड़ी गलती की है. सरकार ने जम्मू-कश्मीर पर भारत की संप्रभुता का अपमान किया है.

उन्होंने मोदी सरकार से पूछा कि मैडी (मादी) शर्मा किस हैसियत से यूरोपियन यूनियन के सांसदों की निजी यात्रा के लिए प्रधानमंत्री की अपॉइंटमेंट तय कर रही हैं? भारत सरकार इनका स्वागत क्यों कर रही है? इस यात्रा का पैसा कहां से आ रहा है? विदेश मंत्रालय को क्यों दरकिनार किया गया?’ कांग्रेस ने मांग की है कि प्रधानमंत्री मोदी देश की संसद का अपमान करने वाले और देश की संप्रभुता एवं सुरक्षा को चुनौती देने वाले इस मुद्दे पर अपना रुख स्पष्ट करें.

हमारी चिंता का विषय आतंकवाद है : EU सांसद

जान लें कि जम्मू-कश्मीर के 2 दिवसीय दौरे पर आये यूरोपीय संघ (EU) के सांसदों ने बुधवार को कहा कि Article 370 भारत का आंतरिक मामला है और वैश्विक आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में वह देश के साथ खड़े हैं. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने आतंकियों द्वारा मंगलवार को पश्चिम बंगाल के मजदूरों की हत्या किए जाने की घटना की निंदा भी की.

फ्रांस के हेनरी मेलोसे ने कहा, Article 370 की बात करें तो यह भारत का आंतरिक मामला है. हमारी चिंता का विषय आतंकवाद है जो दुनियाभर में परेशानी का सबब है और इससे लड़ाई में हमें भारत के साथ खड़ा होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें : #JammuKashmir गये EU सांसदों ने कहा, #Pakistan करता है कश्मीर में #TerrorFunding

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like