न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

छह माह से बंद है नये झारखंड हाईकोर्ट का निर्माण

झारखंड हाईकोर्ट में चल रहे मामले के बाद स्थगनादेश का दिया गया था ऑर्डर

1,552

Ranchi: कोर कैपिटल एरिया में बन रहे नये झारखंड हाईकोर्ट परिसर का निर्माण कार्य छह माह से बंद है. ऐसा हाईकोर्ट के स्थगनादेश के बाद हुआ है.

नये कोर्ट परिसर के निर्माण में बढ़ी लागत से संबंधित याचिका की सुनवाई के बाद स्थगनादेश पारित किया गया है. नये हाईकोर्ट परिसर का निर्माण कार्य दिसंबर 2018 में पूरा होना था. इसकी लागत 330 करोड़ से अधिक हो गयी है.

Trade Friends

इसे भी पढ़ेंःNews Wing Impact: सीएस ने सीएम को कोयला चोरी व लचर बिजली व्यवस्था की दी जानकारी, वितरण निगम के एमडी तलब

अभी भी कई नये कार्य होने हैं, जिनमें दो सौ करोड़ और खर्च होंगे. हाईकोर्ट भवन का निर्माण कार्य रामकृपाल कंस्ट्रक्शन कंपनी प्राइवेट लिमिटेड कर रही है.

55 एकड़ से अधिक अर्जित भूमि में नया कोर्ट परिसर, न्यायाधीशों का आवास, न्यायिक सेवा से जुड़े अधिकारियों, कर्मियों का आवास समेत अन्य बुनियादी सुविधाओं का विकास किया जाना था.

जानकारी के अनुसार, स्थगनादेश समाप्त होने के बाद और छह माह निर्माण कार्य पूरा होने में लगेगा. यहां यह बताते चलें कि झारखंड हाईकोर्ट की तरफ से नये परिसर के निर्माणकार्य की मॉनिटरिंग भी की जा रही है.

Related Posts

#MP निशिकांत ने दी हेमंत को सलाह : प्रदीप यादव #JMM से लड़े, तो संथाल परगना से हो जायेगा सूपड़ा साफ

प्रदीप का समर्थन करना बना गुरु जी की हार की वजहः निशिकांत

WH MART 1

इसे भी पढ़ेंःडोंगरी पहाड़ पर युवक की गला रेतकर हत्या,  आपसी विवाद में लड़ाई के बाद हत्या के कयास

अब तक नहीं बन पाया है आंतरिक रोड, स्ट्रीट लाइट, पार्किंग स्थल, टाइपिस्ट रूम और बैरक

नये हाईकोर्ट भवन में अब तक आंतरिक रोड, स्ट्रीट लाइट, पार्किंग स्थल, टाइपिस्ट रूम और बैरक नहीं बना है. इसके लिए भवन निर्माण विभाग को अलग से निविदा आमंत्रित करनी होगी, जिसमें दो सौ करोड़ रुपये और खर्च होंगे.

इसके लिए विभागीय स्तर पर बनाये गये इस्टीमेट को प्रशासनिक स्वीकृति दे दी गयी है. उधर पूर्व के कार्यों में संवेदक कंपनी रामकृपाल कंस्ट्रक्शन का एक अरब रुपये के भुगतान पर भी विभागीय स्तर पर रोक लगा दी गयी है.

इसे भी पढ़ेंःसरायकेलाः नक्सली महाराजा प्रमाणिक के दस्ता और पुलिस के बीच मुठभेड़, तीन जवान घायल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like