न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#EconomicSlowdown: #PMModi कीआर्थिक सलाहकार परिषद में दो नये चेहरों को जगह मिली   

सरकार के इस कदम को बाजार की हकीकत से वाकिफ होने और वास्तविकता तक पहुंचने के रूप में देखा जा रहा है.

77

NewDelhi : Economic Slowdown के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आर्थिक सलाहकार परिषद में दो नये चेहरों निलेश शाह और नीलकंठ मिश्रा को जगह मिली है.  सरकार ने गुरुवार को सलाहकार परिषद में निलेश शाह और नीलकंठ मिश्रा को शामिल किये जाने की घोषणा की. सरकार के इस कदम को बाजार की हकीकत से वाकिफ होने और वास्तविकता तक पहुंचने के रूप में देखा जा रहा है. इन दोनों की नियुक्ति आर्थिक सलाहकार परिषद में दो साल के अंशकालिक सदस्य के रूप में की गयी है.

इसे भी पढ़ें : #MukeshAmbani की # RIL बनी देश की पहली 9 लाख करोड़ रुपये की कंपनी

नौशाद फोर्ब्स ने इन नियुक्तिओं को सरकार का बेहतरीन कदम बताया

Trade Friends

फोर्ब्स मार्शल के नौशाद फोर्ब्स ने इन नियुक्तिओं को सरकार का बेहतरीन कदम बताया है. उन्होंने कहा कि बेहतर आर्थिक क्षमता वाले और योग्य लोगों को सरकार के सलाहकार की भूमिका में लेकर आना एक स्वस्थ संकेत हैं. मालूम हो कि पिछले महीने ही सरकार ने बिबेक देबरॉय की अध्यक्षता में दो साल के लिए आर्थिक सलाहकार परिषद का पुनर्गठन किया था.

जान लें कि निलेश शाह कोटक महिंद्रा म्यूचुअल फंड के एमडी और नीलकंठ मिश्रा इंडिया स्ट्रेटेजिस्ट के एमडी और एशिया पेसिफिक फॉर क्रेडिट सुईस के इक्विटी स्ट्रेटेजी में सह प्रमुख हैं. इंस्टीट्यूट ऑफ फाइनेंस मैनेजमेंट एंड रिसर्च के डीन वी अनंत नागेश्वरन आर्थिक सलाहकार परिषद् में शामिल होने वाला तीसरा नया चेहरा हैं.

ये नियुक्तियां आर्थिक सलाहकार परिषद् से रथिन रॉय और शमिका रवि के बाहर होने के तीन सप्ताह बाद की गयी हैं. उस समय जेपी मोर्गन के मुख्य भारतीय अर्थशास्त्री साजिद शिनॉय को शामिल किया गया था.

इसे भी पढ़ें : #Mexico ने अवैध रूप से अमेरिका में घुसने की कोशिश कर रहे 311 भारतीयों को दिल्ली भेजा

निलेश शाह ने कहा कि देश की सेवा करना सम्मान की बात

अपनी नियुक्ति को लेकर निलेश शाह ने कहा कि देश की सेवा करना सम्मान की बात है. बाजार के विद्यार्थी के रूप में मैंने जो पिछले तीन दशक से सीखा है उसे समिति के साथ बांटूंगा. शाह पिछले दो दशक से स्टार फंड मैनेजर रहे हैं.

शाह ने आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचअल फंड को हैंडल किया है. इसके अलावा वह एक्सिस कैपिटल के सीईओ भी रहे हैं. एक्सिस कैपिटल एक्सिस बैंक की इंन्वेस्टमेंट बैंकिंग शाखा है.

ऐसे समय जब बैंक ग्रोथ इंडिकेटर, यात्री वाहन, दोपहिया वाहनों की बिक्री, रिटेल खपत में सुस्ती जीडीपी के आंकड़ों में दिखाई दे रही है. उस वक्त बाजार के विश्वसनीय नामों की आर्थिक सलाहकार परिषद् में नियुक्ति से बाजार में विश्वास बहाली में मदद मिलने की उम्मीद है.

इसे भी पढ़ें : #Pak फाइटर जेट ने भारत के यात्री विमान को एक घंटे तक घेरे रखा, बढ़ सकता था तनाव 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like