न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#EconomicSlowdown : वैश्विकअर्थव्यवस्था के पॉजिटिव होने के संकेत,  2020 में सकारात्मक माहौल की उम्मीद

सिंगापुर में स्टैंडर्ड चार्टर्ड पीएलसी के प्रधान अर्थशास्त्री डेविड मन ने कहा, 2019 में अर्थव्यवस्था की हालत खराब हो गयी  थी लेकिन 2020 में इसमें सुधार की बहुत सारी वजहे हैं.

69

NewDelhi :  आर्थिक सुस्ती दूर होने और अर्थव्यवस्था के पटरी पर लौटने के संकेत मिल रहे हैं. जान लें कि पिछले एक साल से वैश्विक अर्थव्यवस्था संकटों से घिरी रही है. कई बड़े देश आर्थिक सुस्ती की चपेट में हैं.  खबर है कि केंद्रीय बैंकों द्वारा रेट कट की घोषणा और अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध के खत्म होने की उम्मीदों के बीच बाजार से आर्थिक सुस्ती के खत्म होने के संकेत मिल रहे हैं.  हालांकि अर्थव्यवस्था सुधरने में थोड़ा समय लगेगा.

कुछ सप्ताह पहले ही इस बात का अनुमान लगाया जा रहा था कि वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी की ओर जा रही है.  ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार अब कई देश अर्थव्यवस्था तेज करने के प्रयास कम कर सकते हैं , क्योंकि कुछ समय बाद इसमें सुधार की गुंजाइश है.  सिंगापुर में स्टैंडर्ड चार्टर्ड पीएलसी के प्रधान अर्थशास्त्री डेविड मन ने कहा, 2019 में अर्थव्यवस्था की हालत खराब हो गयी  थी लेकिन 2020 में इसमें सुधार की बहुत सारी वजहे हैं.

Jmm 2

इसे भी पढ़ें : रियल एस्टेट सेक्टर को सरकार ने दिया बड़ा सहारा, 10 हजार करोड़ के फंड को मंजूरी

ISM की रिपोर्ट के अनुसार अक्टूबर में रोजगार के अवसर बढ़े

जेपी मॉर्गन चेज ऐंड कंपनीज ग्लोबल इंडेक्स के अनुसार अर्थव्यवस्था  कमजोर जरूर है लेकिन यह धीरे-धीरे पॉजिटिव हो रही है और स्थिर है.  अमेरिका की एजेंसी ISM की रिपोर्ट के अनुसार  अक्टूबर में रोजगार के अवसर बढ़े हैं.  रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पे-रोल में बढ़ोतरी के अनुमान हैं और पिछले दो महीने की तुलना में अक्टूबर में ज्यादा हायरिंग हुई हैं.
ब्रेक्जिट को लेकर अनिश्चितताओं और ट्रेड वॉर के चलते यूरोप की अर्थव्यवस्ता भी खराब स्थिति से गुजर रही है लेकिन अक्टूबर में इसमें सुधार देखा गया है.  यूरो एरिया में तीसरी तिमाही में अनुमान केअनुसार ज्यादा ग्रोथ देखी गयी.  वहीं जर्मनी तो मंदी के हालात तक ही पहुंच गया था लेकिन यहां के मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में ग्रोथ दर्ज की गयी है.

Related Posts

#GSTCompensation :  शिवसेना ने मोदी सरकार को चेताया, कहा,  केंद्र और राज्यों के बीच संघर्ष छिड़ सकता है

मुखपत्र सामना में प्रकाशित संपादकीय में कहा, जीएसटी लागू होने की वजह से राज्यों को होने वाले राजस्व के नुकसान की मद में 50,000 करोड़ रुपये का भुगतान करने का केंद्र ने वादा किया था.

इसे भी पढ़ें : #DelhiPollution : SC की दिल्ली, हरियाणा व पंजाब सरकार को फटकार,  कहा- लोगों की परवाह नहीं है तो सत्ता में क्यों हैं

Bharat Electronics 10 Dec 2019

वैश्विक बैंकों द्वारा रेट कट के ऐलान के बाद अर्थव्यवस्था में  सुधार 

रिपोर्ट्स के अनुसार वैश्विक बैंकों द्वारा रेट कट के ऐलान के बाद अर्थव्यवस्था में काफी सुधार देखा  गया है.  इसके अलावा मॉनेटरी पॉलिसी को कई देशों ने सरल कर दिया है जिससे अर्थव्यवस्था की जान लौट आयी है.  उधर अमेरिकी राष्ट्रपति और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच ट्रेड पर हुई पहले चरण की वार्ता से एक सकारात्मक माहौल बन रहा है.  दोनों देशों से मिली प्रतिक्रियाओं के अनुसार  ट्रेड वॉर खत्म हो सकता है.

इसे भी पढ़ें : कांग्रेसी नेता #JairamRamesh ने कहा,  मोदी-शाह के नये शस्त्र #Trishul  ED, CBI और IT के निशाने पर हैं राजनीतिक  विरोधी    

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like