न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गढ़वा: माओवादी समर्थक गिरफ्तार, पुलिस से लूटी गयी एक एके 47 रायफल और गोलियां बरामद

1,471

Palamu/Garhwa: नक्सलियों और उनके समर्थकों पर तेज की गयी कार्रवाई में गढ़वा जिले की भंडरिया पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. गुप्त सूचना पर की गयी कार्रवाई में एक माओवादी समर्थक को गिरफ्तार किया गया है.

उसकी निशानदेही पर पुलिस की लूटी एक ए-के 47 रायफल और गोलियां बरामद की गयी हैं. नक्सली समर्थक लंबे समय से बूढ़ा पहाड़ पर माओवादियों को राशन सामग्री सहित अन्य सामान पहुंचा रहा था.

Trade Friends

इसे भी पढ़ेंः 65 सालों में दूसरी बार देश में प्री-मॉनसून सूखे की स्थिति : भारतीय मौसम विभाग

छतीसगढ़ का निवासी है माओवादी समर्थक

रंका के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मनोज कुमार महतो ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि गढ़वा, लातेहार और छतीसगढ़ के सीमावर्ती बूढ़ा पहाड़ पर कुछ नक्सली समर्थक लगातार राशन सामग्री सहित अन्य सामान उपलब्ध करा रहे हैं.

सूचना पर भंडरिया पुलिस की टीम बनाकर कार्रवाई की गयी. भंडरिया थाना क्षेत्र के पोलपोल जंगल से भाकपा माओवादी के नक्सली समर्थक और पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ के पुनदाग निवासी मुस्तकिम मिंया उर्फ करिया मिंया को गिरफ्तार किया गया.

इसे भी पढ़ेंः …तो राजीव गौबा मोदी सरकार में बनेंगे कैबिनेट सेक्रटरी , झारखंड में चीफ सेक्रटरी रह चुके हैं

बूढ़ा पहाड़ पर 50-60 की संख्या में हैं नक्सली

WH MART 1

एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली समर्थक माआवोदियों को खाने-पीने की सामग्री तथा रोजमर्रा के लिए उपयोग किए जाने वाली सामग्री पहुंचाने का काम करता था. पूर्व में गिरफ्तार किए गए नक्सलियों ने अपनी स्वीकारोक्ति में भी मुस्तकीम मियां द्वारा दैनिक जरूरी सामान पहुंचाने की जानकारी दी गयी थी. इस पर लगातार काम किया जा रहा था.

गिरफ्तार नक्सली मुस्तकिम भंडरिया थाने के मदगड़ी गांव में पूर्व में रहता था. मुस्तकिम ने बताया कि बूढ़ा पहाड़ पर अभी माओवादियों की संख्या 50 से 60 के आस-पास है. उनके समक्ष जब भी दैनिक सामानों की जरूरत होती. सूचना मिलने पर वह उन तक सामान पहुंचा देता था.

नक्सली समर्थक की निशानदेही पर मिली सफलता

एसडीपीओ ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली समर्थक की निशानदेही पर पोलपोल जंगल में जमीन के नीचे छुपा कर रखे गए एक एके 47 रायफल और 24 गोलियां बरामद की. पिछले दिनों भंडरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत और बूढ़ा पहाड़ से सटे खपरी महुआ में नक्सलियों ने लैंड माइंस विस्फोट किया था. इस दौरान झारखंड जगुआर के जवान शहीद हुए थे.

नक्सली घटनास्थल से झारखंड जगुआर की एक एके 47 रायफल लूट ले गए थे. रायफल मिलने के बाद लूटी गयी रायफल के नंबर से मिलान की गयी. नंबर मैच कर गए. रायफल पर जेजे भी लिखा हुआ था. गिरफ्तार नक्सली समर्थक ने पुलिस को कई अहम जानकारी दी है.

इसे भी पढ़ेंः सरकार की योजनाओं को आम जन तक पहुंचाने के मकसद से जल्द होगा रेडिओ खांची का शुभारंभ

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like