न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह : सिखों के पहले गुरु नानक देव जी के शताब्दी प्रकाशोत्सव पर निकली भव्य नगर-कीर्तन शोभा यात्रा

1,517

Giridih :  सिखों के पहले गुरु गुरु नानक देव जी के 550वें जन्मोत्सव सह प्रकाशोत्सव के मौके पर रविवार को गिरिडीह गुरुद्वारा सिंह सभा की और से निकले नगर-कीर्तन की भव्यता ने हर किसी को मंत्रमुग्ध कर दिया. पंज प्यारे की वेशभूषा में महिलाएं थी, तो पुरुष और नन्हें बच्चें और बच्चियां भी. जिसमें पंज प्यारे की पहली पंक्ति में नन्हें बच्चें और बच्चियां थी, तो दुसरे पंक्ति में महिलाएं और युवतियां.

इसके बाद पंज प्यारे के वेश में पुरुष तलवार थामे नगर-र्कीतन में साथ चल रहे थे. कमोवेश, सिख समुदाय की और से निकले भव्य नगर-र्कीतन को देख हर कोई निहाल दिखा. शहर के स्टेशन रोड स्थित प्रधान गुरुद्वारा से निकले नगर-र्कीतन में दिल्ली और लुधियाना से आएं रागी जत्था भाई हरप्रीत सिंह और गगनद्वीप सिंह शब्द-र्कीतन करते साथ चल रहे थे.

JMM

इसे भी पढ़ेंः #MaharastraVerdict : भाजपा ने कदम पीछे खींचे, राज्यपाल से कहा, हम सरकार बनाने की स्थिति में नहीं

महिलाओं ने की सड़कों की सफाई

नगर-र्कीतन में शामिल सिख समुदाय की महिलाएं खुद झाडू लिए सड़क सफाई करती नजर आई. एक वाहन में ही गुुरु ग्रंथ साहिब के सजा भव्य दरबार भी हर किसी को आर्कर्षित कर रहा था. कमोवेश, गुरु नानक देव जी के जन्म शताब्दी के मौके पर निकला सिख समुदाय के नगर-कीर्तन में आस्था और श्रद्धाभाव कूट-कूट कर नजर आया.

इधर फूलों से सजे गुरु ग्रंथ साहिब के दरबार के पीछे ही रागी जत्था की टीम शब्द-कीर्तन करते चल रही थी. इस दौरान नगर-र्कीतन में ही गुरु नानक स्कूल के छात्रों के साथ सिख समुदाय के श्रद्धालु भी पूरे उत्साह के साथ जो बोले सो निहाल, सतश्री अकाल का जयकारा बुंलद करते चल रहे थे. छात्रों और श्रद्धालुओं के जयकारों से पूरा शहर गुरु नानक देवमय नजर आया.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

इसे भी पढ़ेंः #JharkhandElection : BJP ने जारी की 52 उम्मीदवारों की सूची, 10 विधायकों के टिकट कटे

Related Posts

#Jamshedpur: पटमदा में बंगाल से आये हाथियों के जमावड़े से दहशत में गांववाले

हाथियों को वापस बंगाल खदेड़ने में वन विभाग के छूट रहे हैं पसीने

कलाकारों ने दिखाये जोखिम भरे करतब

प्रधान गुरुद्वारे से निकल कर नगर-कीर्तन शहर के गांधी चौक होते हुए बड़ा चौक पहुंचा. जहां यूपी के अमरोहा से आये शहीद बाबा गटका पार्टी के नेत्तृवकर्ता भाई द्वीप सिंह समेत टीम का करतब दांतो तले उंगली दबाने वाला था. गटका पार्टी में शामिल कलाकारों की टीम शहर के जब जिस चौराहे चैराहें रुकती, वहां कई हैरतअंगेज करतबों का प्रदर्शन करती.

कलाकारों के इस प्रदर्शन को देख हर कोई वाह-वाह भी कर रहा था. करतबों के प्रदर्शन के दौरान कोई कलाकार चार पहिया वाहनों के नीचे जोखिम भरे खेल दिखा रहा था, तो कोई अग्निचक्र का खेल. सबसे रोमांचक खेल कलाकारों की टीम ने शहर के कालीबाड़ी में प्रदर्शन किया. कील से भरे बक्से में सो कर कुछ कलाकारों ने का जींवत प्रदर्शन देख हर शहर वासी भी दंग रह गये.

इन स्थानों पर दिखा उत्सव का नजारा  

इधर प्रकाशोत्सव पर्व को लेकर निकले नगर-कीर्तन के उपर शहर के कई स्थानों पर सिख समुदाय के लोगों द्वारा पुष्पवर्षा किया जा रहा था. शहर के टावर चौक में ही सिख समुदाय की और से नगर-र्कीतन में शामिल श्रद्धालुओं के बीच शर्बत के साथ पेयजल का वितरण किया गया.

गुरुद्वारा से निकल कर नगर-र्कीतन शहर के बड़ा चौक, मुस्लिम बाजार, शिवमुहल्ला, पद्म चौक, होते हुए टावर चौक पहुंचा. इसके बाद जिला पर्षद मोड़ होते हुए मकतपुर चौक और काली बाड़ी चौक होते लाईन मस्जिद रोड होते वापस प्रधान गुरुद्वारा पहुंच कर समाप्त हुआ.

नगर-र्कीतन में गुरुद्वारा सिंह सभा के अध्यक्ष गुणवंत सिंह सलूजा, सचिव नरेन्द्र सिंह के अलावे अमरजीत सिंह सलूजा, तरणजीत सिंह सलूजा, मणि सिंह सूलजा, हरमिंदर सिंह बग्गा, राजेन्द्र सिंह बग्गा समेत सिख समुदाय के कई श्रद्धालु मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः #InfrastructureProjects : 355 परियोजनाओं की लागत 3.88 लाख करोड़ रुपये बढ़ी : रिपोर्ट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like