न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Giridih : नौ साइबर अपराधी गिरफ्तार, एक लाख नगद व 14 मोबाइल जब्त

557

Giridih : साइबर थाना की पुलिस ने एसपी को मिली गुप्त सूचना के आधार पर गिरिडीह के तीन थाना क्षेत्रों में छापेमारी कर नौ साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया है.

इनके पास से एक लाख नगद, 14 मोबाइल फोन, आधा दर्जन एटीएम कार्ड और दर्जन भर सिम कार्ड बरामद किये हैं.

JMM

डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी और साइबर थाना के एसआइ शिवेश सौरभ ने बताया कि साइबर पुलिस ने पहले मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के भूतनाथ पहाड़ी में छापेमारी की जहां से मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के गपैय निवासी चंदन श्रीवास्तव, वैभव कुमार और विकास वर्मा को दबोचा.

इसे भी पढ़ें : #Divyang और 80 साल से ज्यादा उम्र के मतदाताओं के लिए पहली बार पोस्टल बैलेट की व्यवस्था

फोन पर ग्राहकों से मांग रहे थे गोपनीय जानकारी

छापेमारी के दौरान तीनों साइबर अपराधी खुद को बैंक पदाधिकारी बताकर ग्राहकों से कई महत्पूर्ण जानकारी हासिल कर रहे थे. इसी दौरान इन अपराधियों को दबोचा गया.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

पुलिस पदाधिकारियों ने बताया कि इन अपराधियों की निशानदेही पर ही बेंगाबाद और अहिल्यापुर के दो अलग-अलग गांवों में छापेमारी की गयी जिसमें बेंगाबाद के बांसजोर में की गयी छापेमारी के दौरान पुलिस ने इसी गांव के नारायण मंडल, संजय मंडल, आशीष मंडल, जीतेन्द्र मंडल और लालू मंडल को दबोचने में सफलता पायी.

पदाधिकारियों के अनुसार बांसजोर गांव से पुलिस के हत्थे चढ़े साइबर सभी अपराधी पहली बार ही बैंक ग्राहकों से धोखाधड़ी कर रहे थे.

इसे भी पढ़ें : #CBSE :  वर्ष 2020 में 22 हजार विद्यार्थी देंगे 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा, रांची में होंगे 16 केंद्र

रंगे हाथ दबोचे गये

पुलिस ने इन अपराधियों को उस वक्त दबोचा, जब सभी अपराधी ग्राहकों को फोन कर उनके खाते और एटीएम का पासवर्ड मांग कर रहे थे.

पुलिस के अनुसार इसमें दो अपराधी अपने दोस्तों का मोबाइल इस्तेमाल कर साइबर अपराध को अंजाम दे रहे थे. रविवार की देर शाम सभी अपराधियों को मेडिकल जांच के बाद जेल भेज दिया गया.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection : 2014 में JVM 73 सीटों पर लड़ा था चुनाव, 55 पर जमानत हो गयी थी जब्त

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like