न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह : अपहर्ता के चंगुल से आठ दिन बाद मुक्त हुआ युवक

719

Giridih : जिले के तिसरी थाना अंतर्गत खतपोंक गांव के अंकित कुमार को अपराधियों ने आठ दिनों के बाद मुक्त कर दिया. अंकित गांव के पीडीएस डीलर अशोक मोदी के पुत्र है.

अपराधियों ने लेवी की रकम लेने के बाद शुक्रवार देर रात अंकित को मुक्त कर दिया. शनिवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे अंकित आठ दिन बाद सकुशल अपने घर लौट गया.

Jmm 2

अंकित के सकुशल घर लौटने की सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी ली. गौरतलब है कि अंकित कुमार को अपराधी 13 जुलाई की रात घर से उठा कर ले गए थे. अपराधियों दहशत फैलाने के लिये फायरिंग भी की थी.

इसे भी पढ़ें- चेन्नईः 14 ठिकानों पर एनआइए की रेड, टेरर फंडिंग को लेकर कार्रवाई

10 लाख लेवी लेने की जतायी जा रही आशंका

अंकित को उसके परिजनों के द्वारा अपराधियों को लेवी के रूप में 10 लाख रुपया देकर मुक्त कराया है. हालांकि इसकी पुष्टि न तो परिवार के लोग कर रहे हैं और न ही पुलिस.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

अंकित को 13 जुलाई की रात हथियारबंद अपराधी उसके घर से अगवा कर ले गए थे. उसकी सकुशल बरामदगी और अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस सीमावर्ती इलाकों में लगातार छापेमारी कर रही थी. लेकिन पुलिस को कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा था. बताया जा रहा है बिहार के अपराधियों ने उसे अपहरण किया था.

इसे भी पढ़ें- रांची : अलग-अलग मामलों में दो की हत्या, जांच में जुटी पुलिस

दर्जनों की संख्या में आए थे अपराधी

13 जुलाई की देर रात दर्जनों की संख्या में अपराधी जन वितरण दुकानदार (पीडीएस) अशोक मोदी के घर पहुंचे थे. वे अशोक कुमार की खोज कर रहे थे. लेकिन अशोक घर पर नहीं मिले. जिसके बाद अपहर्ता अशोक मोदी के बेटे अंकित को अपने साथ ले गये. बताया जा रहा है कि अपराधी अंकित कुमार को लेकर चन्दौरी की ओर भाग गए थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like