न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Google : मूल रिपोर्टिंग को बढ़ावा देगा गूगल, अल्गोरिद्म में हुआ बदलाव

1,499

San Francisco :  गूगल ने अपने अल्गोरिद्म में बदलाव की घोषणा करते हुए कहा है कि अब गूगल सर्च के परिणामों में मूल रिपोर्टिंग को प्रमुखता दी जायेगी.

Trade Friends

दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल की मीडिया संगठनों द्वारा आलोचना की जा रही थी, खासतौर से उसके अल्गोरिद्म के लिए. अल्गोरिद्म निर्देशों का एक ऐसा समूह है, जिसका अनुसरण कम्प्यूटर करता है. समाचार पत्र अक्सर ऑनलाइन ट्रैफिक और उद्योग की गिरावट का दोष गूगल के अल्गोरिद्म को देते हैं.

इसे भी पढ़ेंः बुर्ज खलीफा जितने बड़े आकार के दो धूमकेतु पृथ्वी की ओर तेजी से बढ़ रहे हैं  : #NASA

गूगल के समाचार मामलों के उपाध्यक्ष रिचर्ड गिंग्रास ने बदलावों के बारे में समझाते हुए ब्लॉग में लिखा कि जो खबरें आलोचनात्मक रूप से महत्वपूर्ण हों, कार्यबल को बढाने वाली हों, उन्हें बढ़ावा दिया जाएगा.

उन्होंने गुरुवार को लिखा कि जिन लेखों में मूल, गहन और जांच संबंधी रिपोर्टिंग होगी, उन्हें समीक्षकों द्वारा अधिकतम रेटिंग दी जायेगी.

इन समीक्षकों में मोटे तौर पर 10,000 लोग हैं और इनके फीडबैक से गूगल अल्गोरिद्म बनाता है. अब समीक्षा के दौरान मूल रिपोर्टिंग के लिए प्रकाशक की प्रतिष्ठा पर भी जोर दिया जाएगा. उदाहरण के लिए पुलित्जर पुरस्कार पाने वाले संस्थान की खबरों को अधिक प्रमोट किया जाएगा.

WH MART 1

अभी ये देखना बाकी है कि इन बदलावों का न्यूज संस्थानों पर क्या असर पड़ता है, खासतौर से छोटी ऑनलाइन साइट और स्थानीय समाचार पत्रों पर.

इसे भी पढ़ेंः इंदौर: 7,500 करोड़ की मेट्रो रेल परियोजना की CM कमलनाथ ने रखी नींव

टेक्नालॉजी वेबसाइट टेकक्रन्च ने कहा है कि ये तय करना भी बहुत कठिन है कि मूल रिपोर्टिंग क्या है- कई ऑनलाइन संस्थान अपनी मूल सूचना के आधार पर स्कूप या एक्सक्लूसिव तैयार करते हैं, लेकिन अल्गोरिद्म की जटिलता से उन्हें दिक्कत हो सकती है.

एक अन्य तकनीकी प्रकाशन वर्ज ने लिखा है कि मूल सामग्री पर बहुत अधिक जोर देने से, ऑनलाइन पोर्टल में बिना वैरिफिकेशन के ब्रेकिंग न्यूज पाने की होड़ बढ़ सकती है.

ये बदलाव ऐसे समय में आए हैं, जब गूगल को न्यूज मीडिया पर उसके असर के लिए आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ेंः कैबिनेट का फैसलाः प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना में अब जी प्लस 8 तक का हो सकेगा निर्माण

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like