न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाईः राम मंदिर, राफेल डील पर सुनवाई आज

आर्टिकल 35 A पर भी हो सकती है सुनवाई

923

New Delhi: देश की सर्वोच्च अदालत में मंगलवार का दिन काफी महत्वपूर्ण है. आज देश को दो बहुत ही चर्चित और अहम मसलों पर सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में होनी है. अयोध्या विवाद से लेकर लड़ाकू विमान राफेल जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर सुनवाई होनी है. साथ ही जम्मू कश्मीर से जुड़े अनुच्छेद 35ए पर भी सुनवाई की संभावना है. हालांकि, इसे लेकर स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है.

राम मंदिर विवाद

अयोध्या विवाद देश के पुराने विवादों के साथ-साथ एक ज्वलंत मुद्दा भी है. देश में आम चुनाव की सरगर्मियों के बीच आज सुप्रीम कोर्ट राम मंदिर मामले पर सुनवाई करेगा. कोर्ट ने इससे पहले 29 जनवरी को प्रस्तावित सुनवाई को 27 जनवरी को रद्द कर दिया था क्योंकि न्यायमूर्ति बोबडे उस दिन उपलब्ध नहीं थे.
ज्ञात हो कि इलाहाबाद हाई कोर्ट के 2010 के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देते हुए अपील की गई हैं. इलाहाबाद हाई कोर्ट के फैसले में कहा गया था कि अयोध्या में 2.77 एकड़ जमीन को सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और राम लला विराजमान के बीच बराबर-बराबर बांटा जाए.

Jmm 2

ज्ञात हो कि बीते 25 जनवरी को पांच न्यायाधीशों की पीठ का पुनर्गठन किया गया था, क्योंकि पहले पीठ में शामिल रहे न्यायमूर्ति यू यू ललित ने मामले में सुनवाई से खुद को अलग कर लिया था. इधर बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने रामजन्मभूमि में पूजा करने की इजाजत मांगी थी. जिसे लेकर सुप्रीम कोर्ट ने स्वामी को भी सुनवाई के दौरान मौजूद रहने के लिए कहा है.

राफेल डील विवाद

राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की समीक्षा की मांग करते हुए याचिका दाखिल की गई है. दो याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगी. ज्ञात हो कि फ्रांस के साथ हुए 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद से संबंधित मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने अर्जी लगाकर दावा किया है कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में सरकार द्वारा सीलबंद नोट में किए गए दावे जो कि बिल्कुल असत्य हैं. इन्होंने अपनी अपील में कहा है कि कोर्ट का फैसला रिकॉर्ड में त्रुटियों पर आधारित है और बाद में जो खबरें और सूचनाएं आई हैं, उन पर गौर न करना इंसाफ का गला घोंटना है.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दिसंबर, 2018 के अपने फैसले में न्यायालय की निगरानी में राफेल लड़ाकू विमान सौदे की सीबीआई जांच कराने को लेकर सभी याचिकाएं खारिज कर दी थीं.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

आर्टिकल 35A विवाद

राम मंदिर और राफेल के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर ने राज्य की नागरिकता को लेकर विशेषाधिकार देने वाले अनुच्छेद 35A की वैधता को लेकर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई हो सकती है.

ज्ञात हो कि पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवानों की शहादत के बाद तमाम राजनीतिक और मीडिया विमर्श में एक बार फिर अनुच्छेद 35ए और अनुच्छेद 370 हटाने की मांग ने जोर पकड़ा है.

इसे भी पढ़ेंः भारत ने लिया पुलवामा हमले का बदला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like