न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#HoneyTrap: कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल के विवादित बोल-‘RSS के लोग शादी नहीं करते ये हनीट्रैप का कारण’

कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल के बयान के बाद विवाद गहराने की आशंका, मोहन भागवत को भी दी शादी करने की नसीहत

1,071

Bhopal: एक ओर जहां मध्य प्रदेश के हनीट्रैप मामले में नये-नये खुलासे हो रहे हैं. और जिस तरह से परत-दर-परत इसके राज खुल रहे हैं. ऐसे में आशंका जतायी जा रही है कि ये एमपी का सबसे बड़ा सेक्स स्कैंडल साबित हो सकता है.

वहीं इस हनीट्रैप सिंडिकेट पर प्रदेश के कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने विवादित बयान दिया है. सेक्स स्कैंडल पर उन्होंने राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के सदस्यों को लेकर बड़ी बात कह दी है. जिससे विवाद गहराने की आशंका है.

Jmm 2

इसे भी पढ़ेंः#HoneyTrap: एमपी का बड़ा सेक्स स्कैंडल- बॉलीवुड एक्ट्रेस से लेकर 40 कॉल गर्ल्स थीं शामिल

RSS के लोगों का शादी नहीं करना हनीट्रैप का कारण

एमपी के कांग्रेस नेता अग्रवाल ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोग शादी नहीं करते यह हनीट्रैप का प्रमुख कारण है. उनको शादी करनी चाहिए. मोहन भागवत को भी शादी करनी चाहिए.

Related Posts

#GSTCompensation :  शिवसेना ने मोदी सरकार को चेताया, कहा,  केंद्र और राज्यों के बीच संघर्ष छिड़ सकता है

मुखपत्र सामना में प्रकाशित संपादकीय में कहा, जीएसटी लागू होने की वजह से राज्यों को होने वाले राजस्व के नुकसान की मद में 50,000 करोड़ रुपये का भुगतान करने का केंद्र ने वादा किया था.

इसे भी पढ़ेंःसरकार के आश्वासन से कितने संतुष्ट हैं पारा टीचर, हमें लिखे…
साथ ही उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जांच के लिए गठित एसआइटी अपना काम कर रही है. यह पूरा खेल शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में शुरू हुआ था.

इसमें बड़ी संख्या में भाजपा के नेता शामिल हैं. और पूरा रैकेट पांच से छह राज्यों में फैला हुआ है.

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में नेताओं और आला अफसरों को हनीट्रैप कर उन्हें ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है. और इसमें रोजाना चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं.

हनीट्रैप के जरिये ये महिलाएं नेताओं, ब्यूरोक्रेट्स से पैसे तो ऐंठती ही थी, साथ ही सरकारी काम भी निकलवाती थीं, और ये पूरी प्लानिंग के तहत किया जा रहा था.

इसे भी पढ़ेंःपलामू : पीएम आवास योजना में पांच हजार रूपये घूस लेते रोजगार सेवक गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like