न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोलकाताः पश्चिमी रेंज के आईजी राजीव मिश्रा ने वर्दी में छुए ममता के पैर, सोशल मीडिया में वीडियो वायरल

1,619

Kolkata: पश्चिम बंगाल के पुलिस महकमे से संबंधित एक वीडियो क्लिप सोशल नेटवर्किंग पर वायरल हो रहा है. इस क्लिप में पश्चिमी रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) राजीव मिश्रा वर्दी में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का पैर छू रहे हैं. आठ सेकेंड के इस वीडियो में कई अन्य आला अधिकारियों, नेताओं एवं मंत्रियों को देखा जा सकता है. वर्दी में मुख्यमंत्री का पैर छूने वाले आईजी मिश्रा पर प्रशासनिक हलके में सवाल खड़े किये गये हैं. इसको लेकर राजनीतिक दल भी हमलावर हो गये हैं.

Trade Friends

इस वीडियो में देखा जा सकता है कि मुख्यमंत्री समुद्र के किनारे बैठी हैं. पास में एक केक रखा हुआ है जिसे काटकर मुख्यमंत्री बांट रही हैं. बायीं ओर मंत्री शुभेंदु अधिकारी बैठे हैं. उनके ठीक पास एडीजी रैंक के एक पुलिस अधिकारी हैं. मुख्यमंत्री के दाहिनी ओर शिशिर अधिकारी खड़े हैं.

वहीं आईजी मिश्र वर्दी में खड़े हैं. मुख्यमंत्री अपने सामने रखे केक का एक टुकड़ा उठाती हैं और अपने सामने खड़े सुरक्षा निदेशक आईपीएस विनीत गोयल व आईपीएस मिश्रा को खाने के लिए देती हैं. मिश्रा केक को खा लेते हैं और इसके बाद उसी हालत में वे मुख्यमंत्री के पैर छूकर प्रणाम कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः  फेडरल रिजर्व बैंक के पूर्व अध्यक्ष बिल ने कहा, 2020 में  फेडरल रिजर्व  ट्रंप को हराने में मदद  करे

सर्विस कंडक्ट रूल का उल्लंघन हुआ है  

WH MART 1

पूर्व पुलिस अधिकारी पंकज दत्त ने इस पूरी घटना की आलोचना की है. उन्होंने कहा कि एक पुलिसकर्मी होने के नाते राजीव मिश्रा ऑल इंडिया सर्विस कंडक्ट रूल मानकर चलने के लिए बाध्य हैं. इसके मुताबिक ड्यूटी के दौरान किसी भी संवैधानिक पदाधिकारी को वह सलूट कर सकते हैं, लेकिन किसी भी व्यक्ति को पैर छूकर प्रणाम करना सर्विस रूल का उल्लंघन है. यह दंडनीय अपराध भी है.

इसे भी पढ़ेंः जम्मू-कश्मीर  : कानून मंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिसमूह के गठन की खबर, आर्थिक पैकेज की तैयारी

राजीव मिश्रा से नहीं हो पायी बात  

इस पर प्रतिक्रिया के लिए राजीव मिश्रा से कई बार संपर्क करने की कोशिश की गयी लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी है. सूत्रों का कहना है कि यह वीडियो 21 अगस्त का है. तब मुख्यमंत्री बनर्जी दीघा में मौजूद थीं. वहां जनसंपर्क के साथ-साथ मुख्यमंत्री ने प्रशासनिक बैठक की थी.

इसे भी पढ़ेंः पश्चिम बंगाल सरकार  मॉब लिंचिंग के खिलाफ कानून लायेगी,  उम्र कैद की सजा तक हो सकती है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like