न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुख्य सचिव ने अपने जवाब में कहा- बांटे गये थे खराब स्मार्ट फोन, सभी होंगे रिप्लेस

विधानसभा में प्रदीप यादव ने उठाया था मामला

358

Ranchi: महिला बाल विकास विभाग की तरफ से बांटे गये खराब स्मार्ट फोन को लेकर झारखंड सरकार के मुख्य सचिव ने विधानसभा सचिव को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है. गौरतलब है कि 31 जनवरी 2019 को विधायक प्रदीप यादव ने विधानसभा के अल्पसूचित प्रश्नकाल के दौरान यह सवाल उठाया था. प्रदीप यादव ने अल्प सूचित प्रश्नकाल के दौरान महिला बाल विकास कल्याण विभाग से यह पूछा की राज्य के सात कुपोषित जिलों की आंगनवाड़ी सेविकाओं को मोबाइल बांटे जाने की योजना थी. सभी को मोबाइल मिला. लेकिन कुछ ही दिनों के बाद यह शिकायत आने लगी कि मोबाइल खराब हो गया है, और वह घटिया क्वालिटी के हैं. इस पर विभाग का क्या कहना है. जवाब देते हुए मंत्री लुईस मरांडी ने यह बात स्वीकारी कि जो मोबाइल आंगनबाड़ी सेविकाओं को बंटे हैं, वे निश्चित तौर पर घटिया क्वालिटी के हैं. कई आंगनवाड़ी सेविकाओं ने इस बात की शिकायत की है. हालांकि मामले पर उस वक्त सीएम रघुवर दास ने हस्तक्षेप किया था, लेकिन अध्यक्ष के साफ तौर से कहा था कि मामले पर राज्य के मुख्य सचिव उस पर अपना जवाब दें.

क्या कहा मुख्य सचिव ने   

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार के पत्र के आलोक में केंद्र प्रायोजित योजना अंतर्गत स्मार्टफोंस खरीदने के लिए तीन क्रय मंडल प्रस्तावित किया गया. प्रस्तावित मंडलों में से महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग ने एग्रीग्रेटेड मॉडल थ्रू एमडब्ल्यूसीडी पर स्मार्टफोंस खरीदने कि सहमति प्रदान की गयी. मोबाइल फोन आपूर्ति करनेवाली कंपनी का नाम जैना मार्केटिंग एसोसिएट्स, नई दिल्ली था. कंपनी ने 6858 स्मार्टफोंस की आपूर्ति मार्च 2017 में पूरी की. पहले की प्रक्रिया के ही तहत जैसे ही आपूर्तिकर्ता जैना मार्केटिंग एसोसिएट्स, नई दिल्ली ने 5541 स्मार्टफोंस की आपूर्ति 6 नवंबर 2017 तक कर दी. आईएसएसएनआईपी योजना के अंतर्गत राज्य के 7 जिलों में आपूर्ति लिए गए कुल 12399 स्मार्टफोन में कुछ स्मार्टफोन खराब होने की सूचना प्राप्त हुई. संबंधित जिलों से खराब स्मार्टफोंस के संबंध में समाज कल्याण निदेशालय ने सूचना प्राप्त करने की कार्रवाई की.

Jmm 2

इसे भी पढ़ें – सीएम के जवाब के बावजूद घटिया मोबाइल बांटने के मामले में सीएस को देना होगा जवाब

कार्रवाई की जा रही है

मुख्य सचिव की रिपोर्ट में यह बताया गया है कि 7 जिलों में कुल 577 मोबाइल खराब होने की सूचना विभाग को मिली. जिलों से मिले जवाब के मुताबित दिनांक 21.12.2018 को समाज कल्याण निदेशालय आपूर्तिकर्ता कंपनी को से स्पष्टीकरण एवं प्रतिवेदन की मांग की गयी.  जिसकी प्रति संयुक्त सचिव एमडब्लयूसीडी, जिओआई और जीईएएम को दी गयी. फिर से समाज कल्याण निदेशालय ने कंपनी से 577 स्मार्टफोन खराब होने के संबंध में जवाब मांगा. समाज कल्याण निदेशालय कंपनी को खराब सभी 577 स्मार्टफोन से रिप्लेस करने का निर्देश दिया है. आपूर्तिकर्ता जैना मार्केटिंग एसोसिएट्स, नई दिल्ली का जवाब आया है. जिसके आधार पर कार्रवाई की जा रही है.

इसे भी पढ़ें – पहले सखी मंडल को फोन बांट करायी किरकिरी, शिक्षकों को टैब का लॉलीपॉप,अब आंगनबाड़ी में फोन बांटकर एक और घपले को तैयार रघुवर सरकार

Bharat Electronics 10 Dec 2019

इसे भी पढ़ें – डिजिटल इंडिया के नाम पर ठगी गयी महिलाएं, काम नहीं करता सखी मंडल को दिया गया मोबाइल

इसे भी पढ़ें – स्मार्टफोन के नाम पर ग्रामीण महिलाओं को थमा दिया झुनझुना, बताया ही नहीं कैसे करेंगे इस्तेमाल

इसे भी पढ़ें – झारखंड में महिलाओं के उत्थान के नाम पर हुआ घोटाला, चुप है रघुवर सरकार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like