न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बार एसोसिएशन के नये बार भवन के भूतल पर आरटीआई सेल का उदघाटन

रांची जिला बार एसोसिएशन के नये बार भवन के भूतल पर आरटीआई सेल का उदघाटन  नवनीत कुमार, ज़्यूडिशल कमिश्नर रांची के द्वारा किया गया.

380

Ranchi : रांची जिला बार एसोसिएशन के नये बार भवन के भूतल पर आरटीआई सेल का उदघाटन  नवनीत कुमार, ज़्यूडिशल कमिश्नर रांची के द्वारा किया गया. आरटीआई सेल कार्यालय का उदघाटन नये अधिवक्ताओं   तथा वैसे नागरिकों को जिऩ्हें कानून की जानकारी नहीं है, उन्हें कानून की जानकारी देने के लिए किया गया है.  इसके अलावा आरटीआई-राइट टू इनफार्मेशन एक्ट, राइट टू सर्विस एक्ट, मानवाधिकार तथा महिलाओं के उत्पीड़न से संबंधित जितने भी जनोपयोगी कानून हैं, उन सबकी जानकारी दी जायेगी. आम जन इसका लाभ ले पायेंगे.

इसे भी पढ़ें : बड़ा सवाल : धनबाद पुलिस कानून के हिसाब से चलती है या ढुल्लू महतो के इशारों पर

न्यायायुक्त ने सहयोग करने का वादा किया

समारोह में न्यायायुक्त नवनीत कुमार ने इस सेल को कंप्यूटराइज करने के लिए अपना सहयोग करने का वादा किया और कहा कि इसे वे संवारने में मदद करेंगे. उन्होंने उद्घाटन समारोह में सभी को अपनी सहभागिता का बोध करायाा.

Trade Friends

इसे भी पढ़ेंःकोचांग गैंगरेप के मास्टरमाइंड जॉन जुनास तिडू व बलराम सामद गिरफ्तार

भ्रष्टाचार मिटाने के लिए सेल का उपयोग किया जायेगा

आरटीआई सेल के खोले जाने केा लेकर कहा गया कि भ्रष्टाचार मिटाने के लिए इस सेल का उपयोग किया जायेगा.  भ्रष्ट अधिकारियों को चेताया गया कि वे कानून का राज समझ लें, अन्यथा आरटीआई सेल सहारे के उनकी कार्यसंस्कृति को समझाया जायेगा. समारोह में एडवोकेट दीपेश निराला एवं गोकुल चंद ने कहा कि  आरटीआई सेल मील का पत्थर साबित होगा,  क्योंकि पूरे भारत में किसी भी बार एसोसिएशन में इस तरह का सेल नहीं खोला गया है. दोनों अधिवक्ता राइट टू इनफार्मेशन से संबंधित काफी जानकारी रखते हैं. जानकारी दी गयी कि इन अधिवक्ताओं का इस सेल को खुलवाने में काफी सहयोग रहा.

 समाराेेह में मौजूद थे :   उद्घाटन समारोह में बा र के अध्यक्ष श शंभू प्रसाद अग्रवाल,  अनूप कुमार लाल उपाध्यक्ष,  पवन रंजन खत्री प्रशासनिक सचिव,  दीनदयाल सिंह कोषाध्यक्ष, प्रियांशु कुमार सिंह लाइब्रेरी सचिव, राकेश अमेठिया, कृष्णा भगत एवं कार्यकारिणी के तमाम सदस्य और बार के अधिवक्ता मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंःक्या विपक्ष के सैलरी नहीं लेने से जनता के 192 सवालों के जवाब मिल जायेंगे?

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like