न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रूपहले पर्दे पर दिखेगी जम्मू-कश्मीर के लिए भारत पाकिस्तान  की कड़वाहट

फिल्म रॉ के जासूस रहे रविन्द्र कौशिक के जीवन पर आधारित है. जिसमें उन्हें जासूसी के दौरान पकड़े जाने पर अनेक यातनाएं भी झेलनी पड़ी थीं.

78

Ranchi : रूपहले पर्दे पर काफी दिनो बाद एक जासूसी फिल्म देखने को मिलेगी. जिसमें जम्मू-कश्मीर के लिए भारत-पाकिस्तान के रिश्तों में कड़वाहट भी स्क्रीन पर देखने को मिलेगी . यह फिल्म रॉ के जासूस रहे रविन्द्र कौशिक के जीवन पर आधारित है. जिसमें उन्हें जासूसी के दौरान पकड़े जाने पर अनेक यातनाएं भी झेलनी पड़ी थीं. परिवार दर दर की ठोकरे खाने पर विवश हो गया था. फिल्म 15 November 2019 में रिलीज होने वाली है. फिल्म निर्माता व अभिनेता सुदीप पांडे भोजपुरी फिल्म उद्योग और क्षेत्रीय सिनेमा में एक लोकप्रिय नाम हैं. अपनी प्रभावशाली एक्शन छवि के दम पर भोजपुरी फिल्मों के अक्षय कुमार के रूप में जाने जाते हैं. उन्होंने अपने बहुमुखी अभिनय कौशल से हमेशा अपने दर्शकों को प्रभावित किया है.

इसे भी पढ़ें :  धनबादः सीएम की सभा से पहले बंटी अखबार की कतरन, लोगों को बताया- रघुवर दास ने ही झरिया को उजाड़ देने की घोषणा की थी

शाकिर के जीवन की घटनाओं से प्रेरित है, इसमें आतंकवाद की पृष्ठभूमि है

फिल्म में दिखाया गया है कि लोग कैसे जिहादी विचारों के प्रति संवेदनशील होते जा रहे हैं और आतंकवाद के खिलाफ मजबूत संदेश देते हैं. सोशल मीडिया पर आतंकवादी समूहों द्वारा युवा पीढ़ी को कट्टरपंथी बनाया जा रहा है और वे आतंकवादियों को लोन वुल्फ सिंड्रोम से प्रभावित करते हैं. इसके अलावा अब कई प्रतिष्ठित खेलों में सट्टेबाजी का प्रचलन है और कई बार आतंक की फंडिंग के लिए पैसे जुटाए जाते हैं. इस फिल्म मे इस जरूरी मुद्दे को उजागर करने की कोशिश की है.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें : #Dhullu तेरे कारण: केके साइडिंग के मजदूरों ने कहा- विधायक को रंगदारी देने में ही चला जाता है पैसा

 फिल्म में सुदीप बॉक्सर “विक्टर राय” की भूमिका निभा रहे हैं

फिल्म में सच्ची खेल भावना दिखेगी. किसी व्यक्ति को अपने लक्ष्य की ओर जाने के लिए कितने बलिदानों से गुजरना पड़ता है. आज की पीढ़ी पर सोशल मीडिया द्वारा लगातार हमला किया जा रहा है और यह हर खेल पर आक्रमण कर रहा है. फिल्म में सुदीप बॉक्सर “विक्टर राय” की भूमिका निभा रहे हैं, और वह खुद वास्तविक जीवन में एक चरमपंथी हैं और इस विषय पर प्रारंभिक चरण में बहुत शोध और तैयारी की है और इस फिल्म में अपने चरित्र को सही ठहराने के लिए एक मुक्केबाज के रूप में पूरी तरह से प्रशिक्षण लिया है .

इसे भी पढ़ें : #Ranchi: 5 जून को ही समाप्त हो गया है रिम्स किचन का टेंडर, फिर भी मरीजों को खाना परोस रहा प्राईम किचन

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like