न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

क्रिकेट के पारंपरिक रूप में लोगों की रुचि बनाये रखने के लिए इसमें बदलाव जरूरी है : गांगुली

1,486

Kolkata : भारत में पहले दिन-रात्रि टेस्ट के आयोजन में अहम भूमिका निभाने वाले बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि खेल के पारंपरिक प्रारूप में दिलचस्पी बढ़ाने के लिए ‘कायाकल्प की आवश्यकता है’.

भारतीय टीम ने घरेलू मैदान पर इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेली थी जहां मैदान में दर्शकों की काफी कमी रही. लेकिन शुक्रवार से शुरू होने वाले दिन रात्रि टेस्ट के पहले तीन दिनों के टिकट बिक चुके हैं.

Jmm 2

इसे भी पढ़ेंः लगातार मुनाफा दे रही भारत पेट्रोलियम को आखिर क्यों बेचना चाह रही सरकार?

पिछले महीने बोर्ड अध्यक्ष बनने के बाद भारत में पहले दिन-रात्रि टेस्ट मैच का बीड़ा उठाने वाले गांगुली ने कहा, ‘‘आगे बढ़ने का यही तरीका है, टेस्ट क्रिकेट को कायाकल्प की जरूरत है.’’

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘ यह दुनिया भर में हो रहा है. कहीं से इसे शुरू करना ही था. भारत क्रिकेट के मामले में सबसे बड़ा देश है. मुझे लगता है कि यह बदलाव जरूरी है.’’

Bharat Electronics 10 Dec 2019

बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष के रूप में गांगुली ने भारत-पाकिस्तान टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के 2016 में धर्मशाला से स्थानांतरित होने के बाद कम समय में सफलतापूर्वक आयोजन किया था. उन्होंने हालांकि कहा कि दिन रात्रि टेस्ट का आयोजन अधिक चुनौतीपूर्ण है.

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘हमारे पास दर्शकों को मैदान में लाने की चुनौती है. दुनिया के किसी भी कोने में भारत और पाकिस्तान के बीच खेले जाने वाले मैच का स्टेडियम खचाखच भर जाएगा. आप जैसे ही घोषणा करेंगे दर्शक पहुंच जाएंगे.’’

इसे भी पढ़ेंः #Maoist कमांडर का भाई 2 माह से जेल में, परिजन बोले- ‘पुलिस सरेंडर कराने के लिए मिलने भेजती है और रास्ते में गिरफ्तार कर लेती है’

उन्होंने कहा, ‘‘यह (दिन रात्रि टेस्ट) अधिक चुनौतीपूर्ण है. मैं इस बात को लेकर संतुष्ट हूं की पहले तीन दिन के 65,000 टिकट बिक गये हैं.’’

गांगुली ने ईडन गार्डन्स में आधिकारिक गुलाबी गेंद टेस्ट मैच के शुभंकर पिंकू-टिंकू का अनावरण करते हुए कहा, ‘‘कोहली एक महान खिलाड़ी है और उसे दर्शकों से भरे स्टेडियम में खेलना चाहिए. जब ​​वह पहले दिन बल्लेबाजी करने के लिए बाहर निकलेगा तो दर्शकों की भीड़ देखकर खुश होगा. आप ईडन के माहौल को पसंद करेंगे इसलिए यहां आकर देखें.’’

इसे भी पढ़ेंः #ModelCodeOfConduct का उल्लंघन है वन अधिकार संशोधन कानून वापस लेने का केंद्र का प्रयास : जेएमएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like