न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

  जम्मू-कश्मीर : आजाद ने कहा, छात्रों को जबरन घरों से उठाया जा रहा है, लोगों में डर का माहौल

 कश्मीरी नेताओं को नजरबंद किये जाने पर भी सवाल उठाया.  कहा कि सरकार बताये  कि अगर हालात सामान्य हैं तो नेताओं को क्यों गिरफ्तार किया जा रहा है.  

103

NewDelhi :  जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म किये जाने के बाद से ही मोदी सरकार पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम व कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद हमलावर हैं.   इस क्रम में सोमवार को आजाद ने कश्मीर के हालात पर कहा कि कश्मीर में स्थिति बेहद चिंताजनक है.  छात्रों को जबरन घरों से उठाया जा रहा है, कहा कि लोगों में डर का माहौल है.  एक चैनल से बात करते हुए गुलाम नबी आजाद ने दावा किया कि कश्मीर में स्थिति ठीक नहीं है.  कहा कि कश्णीर में सब कुछ शांतिपूर्ण तरीके से हो रहा है के इस दावे में दम नहीं है.

आजाद के अनुसार लोग खौफ और दहशत के माहौल में हैं.  नौजवानों को पुलिस और सुरक्षा बल जबरन उठाकर ले जा रहे हैं.  उन्होंने पूछा, सरकार जानकारी दे कि अब तक कितने लोग गिरफ्तार किये गये है? इस क्रम में गुलाम नबी आजाद ने कश्मीरी नेताओं को नजरबंद किये जाने पर भी सवाल उठाया.  कहा कि सरकार बताये  कि अगर हालात सामान्य हैं तो नेताओं को क्यों गिरफ्तार किया जा रहा है.  नेताओं को घर में क्यों बंद कर रखा जा रहा है.  लोंगों के घरों से निकलने पर पाबंदी है. प्रदेश के नेताओं को तत्काल रिहा किया जाना चाहिए.

JMM

 अजित डोभाल की यात्रा पर भी साधा निशाना

इससे पहले भी आजाद ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल की कश्मीर यात्रा पर निशाना साधा था,  उन्होंने अजित डोभाल के स्थानीय लोगों के साथ खाना खाने पर कहा था कि पैसे देकर किसी से भी कुछ भी बुलवाया जा सकता है. बता दें कि अजित डोभालने एक सप्ताह का समय कश्मीक के विभिन्न हिस्सों में बिताया था.  छात्र नेता शहला राशिद ने भी कल सिलसिलेवार ढंग से एक के बाद एक कई ट्वीट कर इसी तरह के आरोप लगाये थे.

इसे भी पढ़ेंः कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाये जाने के बाद से अब तक लगभग 4000 लोगों के गिरफ्तार होने की खबर

Bharat Electronics 10 Dec 2019

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like