न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#JAP4  बोकारो ने बिना मेडिकल टेस्ट लिये जारी कर दिया ‘नियुक्त’ अभ्यर्थियों का परिणाम

12 सितंबर को चयनित अभ्यार्थियों के नाम प्रकाशित होने के बाद दो कर्मचारियों को किया गया निलंबित 

607

Ranchi : बहाली निकालना और युवाओं को प्रलोभन देना राज्य की नीति बन चुकी है. अब स्थिति ये हो गयी है कि फोर्थ ग्रेड की बहाली में भी भ्रष्टाचार की शिकायत है.

झारखंड सशस्त्र पुलिस जैप 4 बोकारो की ओर से भी पिछले साल जनवरी में 530 पदों के लिये नियुक्ति निकाली गयी. सभी पद फोर्थ ग्रेड के थे जिसमें राज्य भर से अभ्यार्थियों ने आवेदन भरा.

Trade Friends

दो फरवरी से 27 फरवरी 2019 के बीच इन अभ्यार्थियों की लिखित परीक्षा ली गयी. इसी तारीख में इन अभ्यार्थियों की शारीरिक जांच परीक्षा भी हुई जिसका रिजल्ट जारी किया गया.

24 जुलाई को जैप चार बोकारो की ओर से सूचना निकाली जाती है जिसमें बताया जाता है कि लिखित परीक्षा और शारीरिक जांच उत्तीर्ण करने वाले अभ्यार्थियों की 26 जुलाई से व्यवहारिक जांच परीक्षा की जायेगी. लेकिन इस परीक्षा का रिजल्ट जैप की ओर से जारी नहीं किया गया.

एकाएक 12 सितंबर को जैप चार की ओर से 261 पदों के लिये चयनित अभ्यार्थियों के नाम जारी कर दिये गये. बहाली जैप चार बोकारो की ओर से ही होनी है.

इसे भी पढ़ें : अस्पताल के लिए आवंटित सात करोड़ की राशि को डाल लिया अपने खाते में, ACB में FIR दर्ज, एक बर्खास्त

विज्ञापन के अनुसार मेडिकल टेस्ट भी होना था

इन पदों के लिये राज्य भर से लगभग 42 हजार अभ्यार्थियों ने आवेदन किया. आवेदन निशुल्क भराया गया. अब इन अभ्यार्थियों का कहना है कि व्यवहारिक जांच परीक्षा का रिजल्ट जारी नहीं किया और जैप चार की ओर से अचानक चयनित अभ्यार्थियों की सूची जारी कर दी गयी.

बहाली के लिये निकाली गये विज्ञापन को मानें तो मेडिकल टेस्ट भी होना था जो जैप की ओर से लिया ही नहीं गया. ऐसे में अभ्यार्थियों का कहना है कि बिना व्यवहारिक जांच परीक्षा रिजल्ट के और बिना मेडिकल टेस्ट के जैप कैसे अभ्यर्थी चयनित कर सकती है.

WH MART 1

जबकि विज्ञापन में स्पष्ट है कि मेडिकल टेस्ट भी इन अभ्यार्थियों का करना है. इन अभ्यार्थियों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करने की बात कही है.

इसे भी पढ़ें : देवेश, राज, अमित, सुशील, सुमित, दीपक, मंटू समेत कई ने बताया झारखंड की बदहाली के लिए जिम्मेदार कौन?

दो कर्मचारियों को किया गया निलंबित

चयनित अभ्यार्थियों के नाम निकाले जाने के बाद दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया. जैप चार के बहाली बोर्ड के अध्यक्ष नौशाद आलम की ओर से ये कार्रवाई की गयी जिसमें ये माना गया कि फोर्थ ग्रेड नियुक्ति मामलों में उक्त दो कर्मचारियों की ओर से गड़बड़ी की गयी है.

इन दो कर्मचारियों में राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल के जमादार रवि महतो और जैप चार के कांस्टेबल सुरेंद्र मरांडी हैं. इसमें ये बताया गया कि इन दोनों कर्मचारियों ने अभ्यार्थियों के अंक प्रपत्रों के साथ छेड़छाड़ की है.

फिलहाल चयनित 261 अभ्यार्थियों के नाम को वापस नहीं लिया गया है. ऐसे में छात्रों की मांग है कि उक्त व्यवहारिक परीक्षा का रिजल्ट जारी किया जाये.

इसे भी पढ़ें : #JhrakhandCongress : #Loksabha की तरह #Vidhansabha में भी प्रभारी और सह-प्रभारी नहीं ले रहे रुचि!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like