न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबादः सीएम की सभा से पहले बंटी अखबार की कतरन, लोगों को बताया- रघुवर दास ने ही झरिया को उजाड़ देने की घोषणा की थी

1,119

Dhanbad : झरिया में मुख्यमंत्री रघुवर दास की आमसभा बुधवार की शाम को होगी. इससे पहले झरिया के लोगों ने एक अखबार की कतरन लगभग पूरे शहर में बंटवायी.

यह उस खबर की कतरन है, जिसमें मुख्यमंत्री ने कहा है कि झरिया को हर हाल में खाली करायेंगे. मुख्यमंत्री की सभा को देखते हुए आम लोग एक-दूसरे का यह याद दिला रहे हैं कि यह वही सीएम है, जिसने झरिया को उजाड़ देने की बात कही थी.

झरिया के लोगों को मुख्यमंत्री का यह बयान पसंद नहीं आया और वे लगातार इस बयान की निंदा कर रहे हैं. इसी को लेकर मुख्यमंत्री की सभा का भी विरोध करने का मन बनाया है.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें – आखिर क्यों धनबाद के झरिया में सीएम रघुवर दास के आने से पहले पुलिस ने किया फ्लैग मार्च !

अब यह तो शाम को स्पष्ट हो पायेगा कि मुख्यमंत्री की सभा में विरोध के स्वर गूंजते हैं या नहीं.

कई लोगों को घर खाली करने का मिल चुका है नोटिस

आपको बता दें कि झरिया शहर के चंद मुहल्ले ही ऐसे बच गये हैं,  जिसे बीसीसीएल ने असुरक्षित घोषित नहीं किया है. प्रबंधन ने एक-एक कर झरिया के कई मुहल्ले और आसपास के क्षेत्रों को असुरक्षित घोषित कर दिया है.

बीसीसीएल प्रबंधन अब तक 15 बार झरिया और आसपास की जनता को नोटिस देकर खाली करने की अपील कर चुका है. कई कॉलोनियां पहले ही खाली हो गयी हैं.

ऐसे में झरिया को खाली करने का बयान भाजपा के लिए सिरदर्द साबित हो सकता है.

लोगों ने कहा – नहीं रह गया है किसी भी नेता पर भरोसा

झरियावासी आग के नाम पर पहले ही बहुत कुछ गवां चुके हैं. झरिया से गुजरने वाले रेल मार्ग पर ट्रेनों का परिचालन बंद होने की टीस अभी भी उनके दिल में है.

झरिया की धरोहर आरएसपी कॉलेज छिन जाने का भी मलाल है. उनसे थोक मंडी भी छीनी जी चुकी है. ऐसे में झरिया की जनता ने झरिया के अस्तित्व बचाने की लड़ाई सीधे अपने हाथों में ले ली है.

उनका कहना है कि अब उन्हें किसी भी नेता पर विश्वास नहीं. और यही कारण है कि आम लोग खुद से अखबार की कतरन आपस में बांट रहे हैं और विरोध कर रहे हैं. प्रशासन ने इसी को देखते हुए मंगलवार की शाम फ्लैग मार्च निकाला था.

इसे भी पढ़ें – गढ़वाः महिला थानेदार व एएसआइ का घूस लेते वीडियो वायरल, जांच शुरू-कार्रवाई जल्द

SGJ Jewellers

बीसीसीएल की नजर में ये क्षेत्र हैं असुरक्षित

एक आंकड़े के अनुसार लोदना क्षेत्र के कुजामा कोलियरी प्रबंधन ने झरिया के इंदिरा चौक, लिलोरी पथरा, सुराटांड़, धसकापट्टी, नयी दुनिया, सब्जी बागान, चार नंबर बस स्टैंड आदि स्थान असुरक्षित घोषित किया है. इन स्थानों पर  बीसीसीएल प्रबंधन लगातार नोटिस चिपका कर लोगों को झरिया खाली करने के लिए आगाह करता आया है.

वहीं मुख्यमंत्री ने भी झरिया खाली करने की बात कही. दूसरी तरफ झरिया से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ने  की उम्मीद जगाये बैठीं रागिनी यह कहती हैं कि झरिया किसी भी कीमत पर खाली नहीं होगा. ऐसे में जनता इस क्या समझे.

kanak_mandir

रागिनी सिंह क्या मंच साझा करेंगी रघुवर के साथ

हालांकि झरिया विधनसभा के विधायक संजीव सिंह की पत्नी सह भाजपा नेत्री रागिनी सिंह ने झरिया के कुछ क्षेत्र और आसपास के इलाके को असुरक्षित घोषित करने के बाद बीसीसीएल प्रबंधन को खुली चुनौती भी है.  उन्होंने कहा है कि किसी भी कीमत पर झरिया को खाली होने नहीं दिया जायेगा.

लोक सभा चुनाव के दौरे के क्रम में मुख्यमंत्री ने कहा था झरिया को हर हाल में खाली करना होगा. ऐसे में झरिया की चिंता करनेवाली झरिया के वर्तमान विधायक संजीव सिंह की पत्नी सह भाजपा नेत्री रागिनी सिंह का क्या रुख होगा यह आज की सभा के बाद पता चलेगा. क्या रागिनी सिंह सीएम रघुवर दास के साथ मंच साझा करेंगी यह भी एक सवाल है.

इसे भी पढ़ें – #SupremeCourt ने कहा,  #JammuKashmir प्रशासन संचार व्यवस्था पर प्रतिबंध लागू करने संबंधी आदेश पेश करे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like