न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#JNU ने उच्च न्यायालय का रुख किया, छात्रों और पुलिस पर अवमानना कार्रवाई की मांग

224

New Delhi: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) ने मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर उन प्रदर्शनकारी छात्रों और पुलिस के खिलाफ अवमानना कार्रवाई करने की मांग की जिन्होंने अदालत के आदेश का कथित उल्लंघन करते हुए प्रशासनिक भवन के 100 मीटर के दायरे में प्रदर्शन किया.

जेएनयू ने याचिका में दावा किया कि छात्रों ने प्रशासनिक भवन के 100 मीटर के दायरे में विरोध प्रदर्शन और दैनिक कामकाज को प्रभावित कर उच्च न्यायलय के नौ अगस्त 2017 के आदेश का उल्लंघन किया है. प्रशासनिक भवन में 28 सितंबर से ही कामकाज प्रभावित हो रहा है.

JMM

इसे भी पढ़ें – #DoubleEngine की सरकार में शिक्षा का निजीकरण: 11 प्राइवेट यूनिवर्सिटी खुलीं, सरकारी मात्र दो 

दिल्ली पुलिस ने भी आदेश की अवहेलना की

याचिका में कहा गया है कि विश्वविद्यालय में कानून व्यवस्था कायम रखने से इनकार करने और प्रशासनिक भवन के आसपास अवरोधकों को हटा कर दिल्ली पुलिस ने भी उच्च न्यायालय के आदेश की अवमानना की है.

जेएनयू ने यह याचिका केंद्र सरकार की स्थायी वकील मोनिका आरोड़ा के जरिये दाखिल की है. इसमें छात्रों और पुलिस के खिलाफ अवमानना नोटिस जारी करने और अदालत के आदेश की जानबूझ कर अवज्ञा करने के मामले में अदालती अवमानना कानून के तहत सजा देने की मांग की गयी है.

Related Posts

#Gujarat : पर्यटकों के मामले में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी से आगे निकली स्टेच्यू ऑफ यूनिटी

अनावरण के सालभर बाद ही स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को रोजाना देखने आने वाले पर्यटकों की संख्या अमेरिका के 133 साल पुराने स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी  के पर्यटकों से ज्यादा हो गयी है.

इसे भी पढ़ें – #Jio: अब महंगे होंगे जियो के टैरिफ प्लान, एयरटेल, वोडाफोन-आइडिया पहले ही कर चुकी हैं घोषणा

याचिका में दिल्ली पुलिस के आयुक्त अमूल्य पटनायक को जेएनयू की मौजूदा स्थिति को नियंत्रित करने, भविष्य में छात्रों और उनके नेताओं को अवमानना कार्रवाई रोकने और प्रशासनिक भवन के 100 मीटर दायरे से हटाने में मदद करने का निर्देश देने की मांग की गयी है.

गौरतबल है कि छात्रावास के शुल्क बढ़ाने के खिलाफ छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं और सोमवार को संसद तक निकाले गये मार्च की वजह से शहर के कई इलाके थम गये थे. मार्च को रोकने की वजह से छात्रों की पुलिस से बहस हुई. वहीं छात्रों ने पुलिस पर लाठीचार्ज करने का आरोप लगाया है. हालांकि, शीर्ष अधिकारियों ने इससे इनकार किया है.

दिल्ली पुलिस ने छात्रों के प्रदर्शन को लेकर मंगलवार को दो प्राथमिकी दर्ज की. पुलिस के मुताबिक छात्रों के आठ घंटे तक चले प्रदर्शन के दौरान 30 पुलिस कर्मी और 15 छात्र घायल हुए.

इसे भी पढ़ें – #JPSC : 14 साल बाद 19 नवंबर को होनी थी प्रथम सीमित उप समाहर्ता परीक्षा, आयोग ने किया रद्द

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like