न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#JPSC : 14 साल बाद 19 नवंबर को होनी थी प्रथम सीमित उप समाहर्ता परीक्षा, आयोग ने किया रद्द

2,926

Ranchi : वर्ष 2005 को प्रथम सीमित उप समाहर्ता परीक्षा के लिए जेपीएससी की ओर से विज्ञापन निकाला गया था जिसकी परीक्षा 23 अप्रैल 2006 को रांची के 14 केंद्रों में ली गयी.

कई कारणों से यह परीक्षा कई बार रद्द हुई. जेपीएससी की ओर से एक बार फिर इस परीक्षा का आयोजन 19 नवंबर को किया जाना था.

JMM

इसके लिए 14 नवंबर को उम्मीदवारों ने एडमिट कार्ड डाउनलोड किया था. जेपीएससी ने एक बार फिर इस परीक्षा को रदद कर दिया है. इसको लेकर नोटिस भी जारी कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें : #DoubleEngine की सरकार में शिक्षा का निजीकरण: 11 प्राइवेट यूनिवर्सिटी खुलीं, सरकारी मात्र दो 

50 पदों के लिए निकला था विज्ञापन

पहली बार इस परीक्षा के लिए वर्ष 2005 में 50 पदों के लिए विज्ञापन निकाला गया था. हाल ही में जेपीएससी ने एग्जामिनेशन कैलेंडर जारी कर 20 अक्टूबर को परीक्षा लेने की बात कही थी, लेकिन इस तिथि को भी परीक्षा नहीं ली. जेपीएससी ने इसी तारीख को पांचवीं और छठी सीमित परीक्षा ली है.

गौरतलब है कि जेपीएससी की ओर से अप्रैल 2005 में प्रथम उपसमाहर्ता के 50 पदों के लिए सीमित प्रतियोगिता परीक्षा का आवेदन मंगाया गया था. आवेदन के बाद 23 अप्रैल 2006 को रांची के 14 केंद्रों में परीक्षा ली गयी.

इस परीक्षा में तब 8 हजार के करीब उम्मीदवार शामिल हुए थे. परीक्षा में पेपर लीक होने सहित अन्य मामले की शिकायत निगरानी के द्वारा सरकार को की गयी. न्यायालय में मामला जाने के बाद न्यायालय ने राज्यपाल के विवेक पर निर्णय छोड़ दिया.

इसे भी पढ़ें : हद है! ये एक इंस्पेक्टर व चार दारोगा रहेंगे तभी लातेहार पुलिस करा पायेगी शांतिपूर्ण व निष्पक्ष चुनाव

वर्ष 2017 में होनी थी फिर से परीक्षा

तत्कालीन राज्यपाल सैयद सिब्ते रजी ने इसकी जांच निगरानी से करायी. निगरानी से मिली रिपोर्ट में गड़बड़ी के आधार पर राज्यपाल ने परीक्षा होने के छह साल बाद 12 जून 2013 को परीक्षा ही रद्द कर दी.

इसके बाद पुन: 29 अप्रैल 2017 को परीक्षा लेने का निर्णय लिया गया. लेकिन इस तिथि को भी अपरिहार्य कारण बताते हुए परीक्षा रद्द कर दी गयी. इसके बाद जेपीएससी समय-समय पर केवल परीक्षा की तारीखों की घोषणा ही करती रही.

एक बार फिर जेपीएससी ने सितंबर माह में परीक्षा कैलेंडर जारी करते हुए 20 अक्टूबर 2019 को प्रथम सीमित उपसमाहर्ता प्रतियोगिता परीक्षा के साथ पांचवीं व छठी सीमित प्रतियोगिता परीक्षा लेने की बात कही. इसके बाद भी 20 अक्टूबर को पांचवीं व छठी सीमित प्रतियोगिता परीक्षा तो ली गयी, लेकिन प्रथम सीमित प्रतियोगिता परीक्षा को छोड़ दिया गया.

इसे भी पढ़ें : पांकी विधानसभा क्षेत्रः दो दशक तक एक ही परिवार के पास रही बागडोर लेकिन बुनियादी सुविधा के लिए आज भी तरसते हैं लोग

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like