न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कश्मीर : स्कूली बच्चों से पत्थरबाजी कराने वाले अलगाववादी अपने बच्चों के विदेश में पढ़ाते हैं

हुर्रियत नेताओं समेत घाटी के 112 अलगाववादियों और उनसे सहानुभूति रखने वालों के कम से कम 220 बच्चे विदेश में पढ़ते या रहते हैं.

44

NewDelhi : कश्मीर घाटी में स्कूली बच्चों से पत्थरबाजी कराने, आतंकियों के मारे जाने पर स्कूल जलवाने और  स्कूलों में हड़ताल कराने वाले अलगाववादी खुद अपने बच्चों को विदेश में पढ़ाते हैं. हुर्रियत नेताओं समेत घाटी के 112 अलगाववादियों और उनसे सहानुभूति रखने वालों के कम से कम 220 बच्चे विदेश में पढ़ते या रहते हैं.  यह जानकारी गृह मंत्रालय ने जुटाई है. गृह मंत्रालय एक  योजना के तहत अलगाववादियों की सच्चाई को बेनकाब करने वाले तथ्यों को बड़े पैमाने पर प्रचारित करने की तैयारी में है.  

Trade Friends

 खबरों के अनुसार अलगाववादियों के खिलाफ इस पोलखोल अभियान की जमीन गृह मंत्री अमित शाह ने पिछले हफ्ते तैयार की है. जान लें कि जम्मूकश्मीर में राज्यपाल शासन के विस्तार के मुद्दे पर उन्होंने संसद में 130 हुर्रियत नेताओं की जानकारी   रखी थी, जिन्होंने अपने बच्चों को हायर एजुकेशन के लिए विदेश भेज रखा हे.  दूसरी तरफ अलगाववादी स्कूली बच्चों को पत्थरबाजी  कराते हैं और स्कूलों को जबरन बंद कराते हैं.

इसे भी पढ़ें – आर्थिक सर्वे : 2019-20 में देश की विकास दर सात फीसदी रहने का अनुमान, जल संकट पर भी नजर

आसिया अंद्राबी के दो बेटे विदेश में पढ़ते हैं

WH MART 1

गृह मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार तहरीकहुर्रियत के चेयरमैन अशरफ सेहराई के दो बेटे खालिद और आबिद अशरफ सऊदी अरब में काम करते हैं और वहीं बसे हुए हैं. जमातइस्लामी के सदर गुलाम मुहम्मद बट का बेटा सऊदी अरब में डॉक्टर है.  दुख्तरानमिल्लत की आसिया अंद्राबी के दो बेटे विदेश में पढ़ते हैं. उनका बेटा मुहम्मद बिन कासिम मलयेशिया और अहमद बिन कासिम ऑस्ट्रेलिया में पढ़ता है. इसी तरह, सैयद अली शाह गिलानी के बेटे नीलम गिलानी ने हाल ही में पाकिस्तान में एमबीबीएस कोर्स पूरा किया है.

मीरवाइज की बहन अमेरिका में डॉक्टर हैं

हुर्रियत नेता मीरवाइज उमर फारूक की बहन राबिया फारूक एक डॉक्टर हैं और अमेरिका में सेटल हैं. इसी तरह बिलाल लोन के बेटीदामाद लंदन में सेटल हैं और उनकी छोटी बेटी ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई कर रही है. अलगाववादी मोहम्मद शफी रेशी का बेटा अमेरिका में पीएचडी कर रहा है.  वहीं अशरफ लाया की बेटी पाकिस्तान में मेडिकल की पढ़ाई कर रही है.  मुस्लिम लीग के नेताओं मुहम्मद युसूफ मीर और फारूक गपतुरी की बेटियां भी पाकिस्तान में मेडिकल की पढ़ाई कर रही हैं.  इसी तरह डेमोक्रैटिक मूवमेंट लीडर ख्वाजा फरदौस वानी की बेटी भी पाकिस्तान में मेडिकल कोर्स कर रही है.  वहीदतइस्लामी नेता निसार हुसैन राठेर की बेटी ईरान में काम करती है और अपने पति के साथ वही पर सेटल है. 

इसे भी पढ़ें – आक्रमण हो रहा है, मजा आ रहा, BJP के खिलाफ जारी रहेगी लड़ाई : राहुल गांधी

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like