न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लखनऊ में एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर की हत्या पर केजरीवाल का ट्वीट, हिंदू था फिर क्‍यों मारा…

अपनी आंखों से पर्दा हटाइए. भाजपा हिंदुओं की हितैषी नहीं. सत्ता पाने के लिए अगर इन्हें सारे हिंदुओं का कत्ल करना पड़े तो यह दो मिनट भी नहीं सोचेंगे.

177

NewDelhi : दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने यूपी की राजधानी लखनऊ में 28 सितंबर की रात एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या किये जाने पर देश में सियासत गर्मा गयी है. भाजपा विपक्ष के निशाने पर है. दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भाजपा को निशाने पर लिया है. केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा है कि विवेक तिवारी तो हिंदू था? फिर उसको इन्होंने क्यों मारा? अपनी आंखों से पर्दा हटाइए. भाजपा हिंदुओं की हितैषी नहीं है. सत्ता पाने के लिए अगर इन्हें सारे हिंदुओं का कत्ल करना पड़े तो यह दो मिनट भी नहीं सोचेंगे. बता दें कि गोमती नगर इलाके में हुए हत्याकांड के आरोपी यूपी पुलिस के दो सिपाही हैं. दोनों सिपाहियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

इसे भी पढ़ें :   भारी संख्या में ट्रेनों के माध्यम से रोहिंग्या केरल पहुंच रहे हैं, पुलिस अलर्ट  

Jmm 2
Related Posts

#Imran सरकार में  हिंदू, ईसाईयों पर बढ़ रहे हैं हमले,  महिलाएं और लड़कियां शिकार हो रही हैं: UN

आयोग का कहना है कि इस्लामी राष्ट्र में विशेष रूप से ईसाई और हिंदू समुदाय खासतौर से महिलाएं और लड़कियां कमजोर हैं. हर साल हजारों को अगवा करके धर्मांतरण के बाद मुस्लिम व्यक्ति से शादी कराई जाती है.

भाजपा सरकार के कार्यकाल में कई फर्जी एनकाउंटर : अखिलेश यादव

इस हत्याकांड पर सपा प्रमुख और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में कई फर्जी एनकाउंटर हुए हैं. अखिलेश ने विवेक तिवारी की हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. कहा कि इसकी कल्पना तक नहीं की जा सकती.  कहा कि यूपी सरकार मृतक की पत्नी के लिए सरकारी नौकरी और उनके परिवार के लिए पांच करोड़ की आर्थिक मदद की घोषणा करे. इस क्रम में कांग्रेस नेता राज बब्बर ने  ट्वीट कर कहा, मुख्यमंत्री को शर्म आनी चाहिए. लखनऊ में एक आम शहरी का एनकाउंटर कर दिया गया. कहा कि सीएम ने पुलिस की वर्दी में गुंडों की फौज पाल रखी है   गृहमंत्री राजनाथ सिेह के चुनाव क्षेत्र में भी आम आदमी सुरक्षित नहीं है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like