न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Life_Science सांपों के बारे में बच्चों को पढ़ायेगी पश्चिम बंगाल सरकार, तैयार हुआ सिलेबस

1,489

Kolkata :  पश्चिम बंगाल सरकार तमाम तरह के सांपों के बारे में बच्चों को पढ़ायेगी. इसके लिए दसवीं तक के पाठ्यक्रम में सरीसृप प्राणियों के बारे में विषय वस्तु जोड़े जाएंगे. दसवीं के पाठ्यक्रम कमेटी के अध्यक्ष अभिक मजूमदार ने कहा कि लाइफ साइंस में सांपों के बारे में पाठ्यक्रम शामिल किया जायेगा. इसमें बताया जायेगा कि अगर कहीं घर के आसपास अथवा झाड़ियों में सांप नजर आते हैं तो किस तरह से व्यवहार किया जाना चाहिए.

इसके लिए एक ड्राफ्ट तैयार किया गया है जो आरजीकर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सकों की देखरेख में बनाया गया है. इसे अनुमति के लिए राज्य शिक्षा विभाग के पास भेजा गया है. उन्होंने कहा कि अमूमन सांपों को देखने के बाद लोग उसे मार देते हैं.

JMM

लेकिन इससे इको सिस्टम में गड़बड़ियां शुरू हो जाएंगी. इसको ध्यान में रखते हुए बचपन से ही सांपो के बारे में जागरुकता बढ़ाया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंः #CPIM :  दस सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा, वृंदा करात ने कहा- वाम दल आपसी तालमेल से खड़ा करेंगे उम्मीदवार

बॉयो डायवर्सिटी के बारे में बच्चों को जागरूक किया जायेगा

Related Posts

राज्य में जब तक ममता की सरकार है, तब तक एक भी व्यक्ति को यहां से बाहर नहीं किया जा सकता

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी का कोई विकल्प नहीं है : चंद्रिमा भट्टाचार्य

पश्चिम बंगाल सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली ने भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि बायोडायवर्सिटी के बारे में बच्चों को जागरूक करने के लिए पाठ्यक्रम में सांपो के बारे में पठन-पाठन शामिल किया जायेगा. कई बार ऐसा होता है कि सांपों के काटने से लोगों की मौत हो जाती है.

इसे भी पढ़ेंः #Kolkata :  आयुष्मान भारत के मुकाबले स्वास्थ्य साथी योजना पर फोकस करेगी ममता बनर्जी की सरकार

अमूमन ग्रामीण क्षेत्रों से इस तरह की खबरें सामने आती हैं लेकिन जानकारी के अभाव में ऐसा होता है. सांपों के काटने पर अगर बेहतर तरीके से इलाज कराया जाए तो किसी की भी जान बचाई जा सकती है. बच्चों को इसी बारे में पढ़ाया जायेगा ताकि सांप के काटने से हो रही मौत को कम किया जा सके.

उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी सर्पदंश से लोगों को बचाने के लिए पाठ्यक्रम में विषय को शामिल करने पर जोर दिया था. जिसे अब मूर्त रूप दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः #JharkhandElection: झारखंड NDA में टूट, आजसू के बाद LJP भी एकला चलो की राह पर, 50 सीटों पर अकेले लड़ेगी चुनाव

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like