न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Kolkata : #Mamata ने राज्यपाल  को भाजपाई करार दिया,  उनके किसी भी सवाल का जवाब देने से इनकार किया

जुलाई महीने में जब से धनखड़ ने राज्यपाल के तौर पर शपथ ली है उसके बाद से ही किसी न किसी मुद्दे पर राज्य सरकार के साथ टकराव होता जा रहा है .

32

Kolkata : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को भाजपाई करार दिया है और उनके द्वारा पूछे गये किसी भी सवाल का जवाब देने से इनकार कर दिया है . दरअसल जुलाई महीने में जब से धनखड़ ने राज्यपाल के तौर पर शपथ ली है उसके बाद से ही किसी न किसी मुद्दे पर राज्य सरकार के साथ टकराव होता जा रहा है . गुरुवार को भी उन्होंने केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से सवाल पूछा था . राज्यपाल ने कहा है कि आज इस योजना का लाभ पूरे देश को मिल रहा है लेकिन राजनीतिक पूर्वाग्रह के कारण पश्चिम बंगाल के लोग से वंचित हैं, यह ममता बनर्जी बतायें

इसे भी पढ़ें :  #MamtaBanerjee की सरकार राजनीति से ऊपर उठकर आयुष्मान भारत योजना लागू करे :   राज्यपाल

JMM

ममता ने  विधायकों और सांसदों के साथ तृणमूल भवन में बैठक की

इसके बाद देर शाम मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के सभी विधायकों और सांसदों को लेकर तृणमूल भवन में बैठक की . वहां उन्होंने मीडिया से भी बात की . इस दौरान मुख्यमंत्री से राज्यपाल के इस आरोप के बारे में जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भाजपा के किसी व्यक्ति के किसी भी सवाल का जवाब मैं नहीं दे सकती हूं . इसके पहले जब भी राज्यपाल सरकार पर किसी तरह का सवाल खड़ा करते रहे हैं तो उसका जवाब तृणमूल कांग्रेस के महासचिव और राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी देते रहे हैं . अब ऐसा पहली बार हुआ है जब मुख्यमंत्री ने सीधे तौर पर राज्यपाल को कोई जवाब दिया हो .

Related Posts

राज्य में जब तक ममता की सरकार है, तब तक एक भी व्यक्ति को यहां से बाहर नहीं किया जा सकता

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी का कोई विकल्प नहीं है : चंद्रिमा भट्टाचार्य

इसे भी पढ़ें : Kolkata :   एक करोड़ की नशीली गोलियों के साथ कोलकाता में तीन तस्कर गिरफ्तार

भाजपा का पलटवार

मुख्यमंत्री के इस बयान को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का लोग बताकर ममता बनर्जी अपनी जिम्मेदारियों से नहीं भाग सकती . वह राज्यपाल को भाजपा का लोग बता देंगी, इसलिए उन पर लगा हुआ आरोप कम हो जायेगा, ऐसा संभव नहीं है . उन्हें बताना होगा कि आखिर पश्चिम बंगाल के लोग आयुष्मान भारत जैसी महत्वाकांक्षी योजना के लाभ से वंचित क्यों हों?

इसे भी पढ़ें : #Kolkata :  #BulbulCyclone की वजह से अलर्ट पर पश्चिम बंगाल, मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like