न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जेपीएससी मुख्य परीक्षा टलने के आसार कम, स्थगित कराने को लेकर प्रयासरत परीक्षार्थी

4,106

Ranchi: जेपीएससी परीक्षा का विवादों से पुराना नाता है. एकबार फिर विवाद गहराता जा रहा है. एक ओऱ 28 जनवरी से होने वाली जेपीएससी मुख्य परीक्षा के लिए जिला प्रशासन ने परीक्षा नियंत्रक की नियुक्ति कर दी है. यह नियुक्ति 58 परीक्षा केंद्रों के लिए की गयी है. वहीं दूसरी ओर परीक्षा में भाग लेने वाले कई परीक्षार्थी परीक्षा स्थगित कराने की अपनी मांगों को लेकर लगातार प्रयासरत है.

अपनी मांगों को लेकर बुधवार को परीक्षार्थियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा सहित कई विधायकों से मुलाकात की. वहीं देर रात इन छात्रों ने विधानसभा स्पीकर दिनेश उरांव, गुमला विधायक शिवशंकर उरांव के आवास का भी घेराव किया. मिली जानकारी के मुताबिक, गुरूवार सुबह से भी कई छात्र विधायक शिवशंकर उरांव के आवास के बाहर पहुंचे हुए हैं.

Trade Friends

नियुक्त हुए केंद्राधीक्षक व जोनल दंडाधिकारी

सोमवार से होने जा रहे मुख्य परीक्षा को लेकर आयोग ने कुल 58 केंद्रों में केंद्राधीक्षक और जोनल दंडाधिकारियों की नियुक्ति की गयी है. इसे लेकर बुधवार को रांची समाहरणालय में परीक्षा नियंत्रक राजीव रंजन राय ने एक बैठक की थी. परीक्षा नियंत्रक ने कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के लिए सभी को परीक्षा निर्देशिका का पालन अच्छी तरह से करने को कहा है. वहीं सभी दंडाधिकारियों को ससमय अपने–अपने प्रतिनियुक्त स्थानों पर पहुंचने का निर्देश दिया गया है.

परीक्षार्थियों को कहा गया है कि परीक्षा केंद्र पर एक मिनट भी विलंब से पहुंचने पर उन्हें परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी. परीक्षार्थियों के परीक्षा केंद्र में प्रवेश करते समय उनकी अच्छी तरीके से जांच करने का भी निर्देश दिया गया है, ताकि किसी तरह का उपकरण वे अपने साथ केंद्र में ना ले जा सके.

WH MART 1

परीक्षा स्थगित कराने को लेकर मांगों पर अड़े छात्र

दूसरी तरफ मुख्य परीक्षा स्थगित कराने की मांग को अभी भी कई छात्र लगातार आंदोलनरत हैं. अपनी मांगों को लेकर छात्रों का एक प्रतिनिधिमंडल मांडर विधायक गंगोत्री कुजूर, मंत्री नीलकंठ सिहं मुंडा, नगर विकास मंत्री सीपी सिंह से मुलाकात कर चुका है. इस दौरान परीक्षार्थियों ने कहा कि आयोग ने विज्ञापन की शर्तों के अनुरूप 15 गुणा आरक्षण रिजल्ट का पालन नहीं किया है. ना ही अभी तक अमर बाउरी कमेटी रिपोर्ट को लागू किया गया है. वहीं मुख्य परीक्षा के फॉर्म की स्क्रूटनी नहीं की गयी. इतना ही नहीं, जिन परीक्षार्थियों ने मुख्य परीक्षा का फॉर्म तक नहीं भरा, उनका भी एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है.

शिवशंकर उरांव आवास का किया घेराव

बुधवार देर शाम कई छात्रों ने विधानसभा स्पीकर दिनेश उरांव से भी मुलाकात की. मुलाकात के दौरान छात्रों को क्या आश्वासन मिला, इसकी पुख्ता जानकारी नहीं मिल पायी है. वहीं परीक्षा स्थगित कराने की मांग को लेकर देर रात कई छात्रों ने विधायक शिवशंकर उरांव के आवास का भी घेराव किया. मुलाकात के दौरान इन छात्रों की मांगों को राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू, मुख्यमंत्री रघुवर दास के पास रखने का आश्वासन भी विधायक ने दिया है.

इसे भी पढ़ेंः रूक्का डैम में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के अंदर बिछी पाइपलाइन की बाउंड्रीवॉल की अनियमितता मामले की जांच शुरू

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like