न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2019 : UP, MP और पंजाब में 11 बजे तक का मतदान प्रतिशत

865

New Delhi : लोकसभा चुनाव के सातवें और आखिरी चरण में 59 सीटों पर रविवार सुबह मतदान शुरू हो गया. इस चरण में मतदाता उत्तर प्रदेश की वाराणसी सीट से चुनाव लड़ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 918 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे.

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में पंजाब की सभी 13 सीटों, उत्तर प्रदेश की 13, पश्चिम बंगाल की नौ, बिहार और मध्य प्रदेश की आठ-आठ, हिमाचल प्रदेश की चार, झारखंड की तीन तथा चंडीगढ़ की एक सीट पर वोट डाले जा रहे हैं.

उप्र की 13 लोकसभा सीटों पर 11 बजे तक 22.62 प्रतिशत मतदान

Trade Friends

लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण में उत्तर प्रदेश की 13 सीटों पर ग्यारह बजे तक 22.62 प्रतिशत मतदान हुआ. प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के मुताबिक ग्यारह बजे तक महाराजगंज 26 प्रतिशत, गोरखपुर 23.62, कुशीनगर 21 प्रतिशत, देवरिया 21.40,बांसगांव 23.14,घोसी 20.99,सलेमपुर 23.60,बलिया 21,गाजीपुर 22.88,चंदौली 22.42,वाराणसी 23.10,मिर्जापुर 24.70 और राबर्टसगंज में 20.20 प्रतिशत मतदान हुआ.

इस चरण में वाराणसी के अलावा गाजीपुर, मिर्जापुर, महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, घोसी, सलेमपुर, बलिया, चंदौली और रॉबट्र्सगंज सीटों के लिये मतदान होगा। इस चरण में कुल 167 प्रत्याशी मैदान में हैं.

सातवें चरण में प्रधानमंत्री मोदी के अलावा केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा (गाजीपुर), अनुप्रिया पटेल (मिर्जापुर), प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय (चंदौली), पूर्व केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री आर.पी.एन. सिंह (कुशीनगर) जैसी सियासी हस्तियों का भाग्य तय होगा.

सबकी निगाहें बनारस पर

सबकी निगाहें प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय निर्वाचन और उम्मीदवारी वाले क्षेत्र बनारस पर लगी हैं. पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा के पक्ष में चली लहर का केन्द्र बने मोदी ने करीब तीन लाख 72 हजार मतों से यह सीट जीती थी. इस बार भी उनकी जीत सुनिश्चित मान रही भाजपा के सामने मोदी को पिछली दफा के मुकाबले अधिक मतों से जिताने की चुनौती है.

वैसे तो भाजपा ने गोरखपुर सीट पर भोजपुरी अभिनेता रवि किशन को मैदान में उतारा है, मगर इसे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा है. योगी यहां से पांच बार सांसद चुने जा चुके हैं. हालांकि पिछले साल इस सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा को सपा के हाथों पराजय का सामना करना पड़ा था. लिहाजा इस बार यह सीट जीतना भाजपा के लिये प्रतिष्ठा का सवाल है.

केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल मिर्जापुर से दोबारा संसद पहुंचने की उम्मीद लगाये हैं. ऊंट किस करवट बैठेगा, यह 23 मई को पता चलेगा. सातवें चरण में भाजपा 11 सीटों पर जबकि उसका सहयोगी अपना दल—सोनेलाल मिर्जापुर और रॉबट्र्सगंज सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. पिछले लोकसभा चुनाव में सातवें चरण की सभी 13 सीटों पर भाजपा और उसके सहयोगी ने ही जीत दर्ज की थी.

सपा-बसपा गठबंधन भाजपा के लिये चुनौती के तौर पर उभरता दिख रहा

इस चरण का मतदान महागठबंधन कर चुनाव लड़ रहे सपा के आठ और बसपा के पांच प्रत्याशियों के भाग्य का भी फैसला करेगा. पिछले लोकसभा चुनाव में लगभग धराशायी हो चुके सपा और बसपा का इस दफा गठबंधन बन जाने से वह भाजपा के लिये एक चुनौती के तौर पर उभरता दिख रहा है.

इस चरण में 167 उम्मीदवार मैदान में हैं. सबसे ज्यादा 26 प्रत्याशी वाराणसी में ताल ठोंक रहे हैं. इस चरण में दो करोड़ 32 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे. मतदान के लिये 13979 मतदान केन्द्र और 25874 मतदेय स्थल बनाये गये है.

मध्य प्रदेश में आठ लोकसभा सीटों पर लगभग 25.90 प्रतिशत मतदान

लोकसभा चुनाव के सातवें चरण में मध्य प्रदेश में रविवार सुबह 11 बजे तक आठ सीटों पर लगभग 25.90 फीसदी मतदान हुआ. सभी स्थानों पर मतदान शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है और कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. इस चरण में प्रदेश में हो रहे मतदान में ड्यूटी पर तैनात एक पीठासीन अधिकारी सहित दो कर्मचारियों की दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई है.

आधिकारिक जानकारी के अनुसार प्रदेश की आठ लोकसभा सीटों के लिए सुबह 11 बजे तक लगभग 25.90 प्रतिशत मतदान हुआ है. कई मतदान केंद्रों पर लंबी लंबी कतारें लगी हुई हैं. उन्होंने कहा कि सुबह 11 बजे तक देवास में 30.20 प्रतिशत, उज्जैन में 28.20 प्रतिशत, मंदसौर में 32.59 प्रतिशत, रतलाम में 27.74 प्रतिशत, धार में 18.95 प्रतिशत, इंदौर में 19.13 प्रतिशत, खरगोन में 29.10 प्रतिशत एवं खण्डवा में 23.26 प्रतिशत मतदान हुआ.

SGJ Jewellers

मतदान बहिष्कार की खबर

kanak_mandir

मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) वी एल कांता राव ने बताया कि मध्यप्रदेश में छह मतदान केन्द्रों पर स्थानीय मांगों को लेकर मतदाताओं द्वारा मतदान का बहिष्कार करने की खबर मिली है. इनमें देवास सीट की आगर विधानसभा क्षेत्र के मतदान केन्द्र बरखेडा एवं मन्दसौर सीट के पांच मतदान केन्द्रों छोटी पतामासी, सुतखेड़ा, कोचरिया, पिछला एवं बागरेचा शामिल हैं.

उन्होंने कहा कि इन मतदान केन्द्रों पर प्रशासन द्वारा लोगों को मतदान करने के समझाइश दी जा रही है, जिसके परिणाम स्वरूप इनमें से एक मतदान केन्द्र पर मतदान शुरू हो गया है और सुबह नौ बजे तक 12 वोट डाले भी जा चुके हैं. जल्द ही अन्य पर भी मतदान कराने के प्रयास जारी हैं.

राव ने कहा कि एक करोड़ 49 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करके 82 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. उन्होंने कहा कि इन सीटों पर सुबह सात बजे से मतदान हो रहा है. मतदान शाम 6 बजे तक चलेगा. सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं.

पंजाब में सुबह 11 बजे तक 13 फीसदी से अधिक मतदान

पंजाब में 13 लोकसभा सीटों पर सुबह 11 बजे तक लगभग 13.55 फीसदी मतदान हुआ. चुनाव अधिकारियों ने बताया कि अकेले चंडीगढ़ लोकसभा सीट पर सुबह 11 बजे तक करीब 10.40 फीसदी मतदान हुआ. पंजाब और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ की 14 लोकसभा सीटों पर मतदान रविवार को सुबह सात बजे शुरू हुआ और यह शाम छह बजे तक जारी रहेगा.

गुरदासपुर में 13.28 फीसदी मतदान हुआ। इसके बाद अमृतसर में 8.29, खडूर साहिब में 12.66, जालंधर में 12.11, होशियारपुर में 9.03, आनंदपुर साहिब में 14.81, लुधियाना में 11.92, फतेहगढ़ साहिब में 14.98, फरीदकोट में 14.33, फिरोजपुर में 14.50, बठिंडा में 17.27, संगरूर में 18.93 और पटियाला में 13.98 फीसदी मतदान हुआ.

आयोग के अधिकारियों ने बताया कि कई मतदान केंद्रों पर अपना वोट डालने के लिए सुबह-सुबह ही मतदाताओं की लंबी कतारें लग गई. लुधियाना, समाना और मोगा समेत कई स्थानों में ईवीएम में तकनीकी खराबी की कुछ रिपोर्टें हैं. पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस करुणा राजू ने कहा कि आठ बैलट यूनिट, 13 नियंत्रण यूनिट और आठ वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल को बदला गया है.

राजू ने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण चल रहा है और हिंसा की कोई रिपोर्ट नहीं है. हालांकि, गुरदासपुर में कांग्रेस और अकाली-भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प की खबरें हैं. सुबह-सुबह वोट डालने वालों में क्रिकेटर हरभजन सिंह, आनंदपुर साहिब से कांग्रेस उम्मीदवार मनीष तिवारी, पटियाला के सांसद धरमवीर गांधी, भाजपा के राष्ट्रीय सचिव तरुण चुग, पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल और अमृतसर से कांग्रेस उम्मीदवार गुरजीत सिंह औजला रहे.

पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, शिअद प्रमुख सुखबीर सिंह बादल, उनकी पत्नी हरसिमरत कौर बादल और उनकी दो बेटियों ने भी मतदान किया. अभिनेता से नेता बने सनी देओल कांग्रेस प्रत्याशी सुनील जाखड़ के खिलाफ गुरदासपुर से पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं. आप के भगवंत मान संगरूर सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

कांग्रेस के दिग्गजों में पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी आनंदपुर साहिब से जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की पत्नी प्रिनीत कौर पटियाला सीट से चुनाव लड़ रही हैं. 13 सीटों में से ज्यादातर में कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी गठबंधन के बीच सीधा मुकाबला नजर आ रहा है.

दो करोड़ सात लाख

पिछले आम चुनाव में प्रदेश में शिअद और आम आदमी पार्टी ने चार-चार सीटों पर जीत हासिल की थी जबकि कांग्रेस के खाते में तीन सीट और भाजपा को दो सीटों पर विजय मिली थी. प्रदेश के दो करोड़ सात लाख मतदाताओं में से 98 लाख 29 हजार 916 महिला मतदाता हैं जबकि 516 थर्ड जेंडर हैं.

राज्य में सुचारू मतदान के लिए 23 हजार 213 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. चंडीगढ़ की एकमात्र लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी किरन खेर का मुकाबला पूर्व रेल मंत्री एवं कांग्रेस नेता पवन कुमार बंसल के साथ है.

इस सीट पर लगभग छह लाख 46 हजार मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर 36 नेताओं के राजनीतिक भाग्य का फैसला करेंगे। इन उम्मीदवारों में नौ महिलायें है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like