न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Jamshedpur : बिना टेंडर के #JNC कार्यालय का हो रहा मेकओवर,  मानगो स्टैंड टेंडर की बंदोबस्ती दर में इजाफा नहीं

1,300

Jamshedpur:  जमशेदपुर अधिसुचित क्षेत्र समिति, जेएनएसी भी लापरवाही करने में किसी से पीछे नहीं है. बीते एक महीने से जेएनएसी के भवन का रंग- रोगन हो रहा है. सीमेंट के फ्लोर को टाइल्स में बदला जा रहा है. अधिकारियो के कमरों को नए लुक में डिजाइन करने का काम चल रहा है.

सभी दफ्तरों में नई टेबल, कुर्सी और पंखे की जगह एसी लगाने की योजना है. लेकिन ये सब कैसे हो रहा है, इसके बारे में कोई कुछ नहीं जानता. जबकि नियम के मुताबिक सरकारी कार्यालयों में ये काम टेंडर के जरिए होता है. ताकि किफायती दर में काम हो सके. लेकिन यहां न तो कोई टेंडर हुआ है और न ही एसी कोई प्रक्रिया अपनाई गई है जिससे सरकार को लाखो का नुकसान होगा. 15 लाख के नुकसान का अनुमान है.

JMM

इसे भी पढ़ेंः आसनसोल डीआरएम पहुंचे गिरिडीह रेलवे स्टेशन, कहा, 15 अक्टूबर तक यहां का कायाकल्प हो जायेगा

मानगो बस पड़ाव के टेंडर में नहीं बढ़ी राशि

मानगो बस पड़ाव के लिए इस साल बंदोबस्ती की राशि में कोई इजाफा नहीं किया गया. बीते साल जुलाई में 1 करोड़ 97 लाख 15 हजार रुपए की राशि जेएनएसी ने वसूली थी. नियम के मुताबिक हर साल 10 फीसदी का इजाफा कर नया टेंडर होना है. लेकिन इस साल भी बंदोबस्ती राशि 1 करोड़ 97 लाख 15 हजार रखी गयी है.

इसे भी पढ़ेंः #Asansol_Station पर रेल मंत्रालय की ओर से किया गया रेल नीर की सप्लाई का दावा फेल

Bharat Electronics 10 Dec 2019

पुराने ठेकेदार को लाभ पहुंचाने की कोशिश

नाम न लिखने की शर्त पर एक ठेकेदार का कहना था कि ये सारा खेल पुराने ठेकेदार को  दोबारा से टेंडर देने के लिए किया गया है. बीते साल राधवेंद्र प्रताप सिंह ने 1 करोड़ 97 लाख 15 हजार की बोली लगा कर बंदोबस्ती ली थी. इस साल भी तीन लोगों ने फार्म खरीदा है जिसमें से एक ने फार्म जमा नहीं किया. अब दो लोग ही बचे हैं.

इसे भी पढ़ेंः जी जान से चुनाव लड़ें कार्यकर्ता, रिजल्ट क्या होगा उस पर न दें ध्यान : कृष्णा अल्लावरू

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like