न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची के मनातू में नक्सलियों का आतंकः क्रशर कैंप पर हमला, कई वाहनों को फूंका

लेवी को लेकर मचाया तांडव

233

Ranchi: राजधानी रांची में नक्सलियों में धमक दी है. कांके थाना क्षेत्र के मनातू में बुधवार देर रात एक बजे के लगभग पीएलएफआई के नक्सलियों ने जमकर तांडव मचाया. मनातू इलाके में काम कर रही हिंदकुश कंस्ट्रक्शन के क्रशर कैंप पर हमला कर कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया.

इसे भी पढ़ेंःNEWS WING IMPACT : आयुष्मान कार्डधारी से पैसे मांगने के मामले में रिम्स निदेशक बोले- हमसे गलती हुई, आयुष्मान भारत की सही से नहीं थी जानकारी

Jmm 2

12 की संख्या में आए थे नक्सली

मिली जानकारी के मुताबिक, देर रात 12 की संख्या में हथियारबंद पीएलएफआई उग्रवादी क्रशर पर पहुंचे. हिंदुकुश कंस्ट्रक्शन पर पहुंचते ही नक्सलियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. फायरिंग की आवाज सुनकर मजदूर और कर्मचारी भाग खड़े हुए. अत्याधुनिक हथियारों से लैस नक्सलियों ने जेसीबी और बाइक समेत कई अन्य सामानों को आग के हवाले कर दिया.

लगभग आधे घंटे तक मचाया उत्पात

मनातू के ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार, नक्सली पीएलएफआई जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. नक्सलियों ने घटनास्थल पर लगभग आधे घंटे उत्पात मचाया. जिसके बाद नक्सली ग्रामीणों और कर्मचारियों को धमकी देते हुए वापस लौट चले गए.

इसे भी पढ़ें- रिम्स : आयुष्मान कार्डधारी ने डॉ. सीबी सहाय से लगायी इलाज की गुहार, तो डॉक्टर ने थमाया दलाल का नंबर,…

Bharat Electronics 10 Dec 2019

लेवी को लेकर तांडव

मिली जानकारी के मुताबिक, लेवी को लेकर पीएलएफआई उग्रवादियों ने पूरा उत्पात मचाया. नाम नहीं छापने के शर्त पर कुछ व्यक्तियों ने बताया कि पीएलएफआई नक्सलियों के द्वारा लेवी की रकम नहीं मिलने के कारण इस तरह के घटना का अंजाम दिया गया है.

जांच में जुटी पुलिस

पीएलएफआई के नक्सलियों के जाने के बाद हिंदुकुश कंस्ट्रक्शन के कर्मचारी ने देर रात पुलिस को मामले की जानकारी दी गई. जिसके बाद ग्रामीण एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच में लग गए. ग्रामीण एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग ने बताया कि पुलिस ने इलाके को सील कर दिया गया है. साथ ही नक्सलियों की धरपकड़ के लिए इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया है.

इसे भी पढ़ेंःकागजों में सिमट गया 14 हजार करोड़ का एक्शन प्लान, मियाद पूरी होने में सिर्फ चार माह बाकी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like